प्रस्तावित civil enclave के लिये किसान अपनी ज़मीन देने को तैयार

civil enclave को लेकर सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा की किसानों के साथ बैठक

आगरा। आज सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ने भलेरा के जूनियर हाई स्कूल में किसानों के साथ बैठक की। सभी किसानों ने पुरजोर मांग की कि प्रस्तावित civil enclave के लिये अभयपुरा और भलेरा कि बची हुई जमीन भी ली जाये। किसान शासन द्वार तैयार टर्म्स & कंडीशन पर जमीन देने को तैयार है।

उन्होंने बताया कि २३/८/२०१६ को सभी किसानों ने नया हवाई अड्डा बनाने का सहमति पत्र दिया था। आज भी civil enclave के लिए किसान जमीन देने के लिये सहमत हैं।

किसानों ने कहा जिस तरह आगरा प्रशासन ने ३.५० हेक्टेयर जमीन का प्रस्ताव पारित कर के शासन/सरकार को भेजा है, उसी तरह बाकी की ४५ एकड़ जमीन का भी प्रस्ताव शासन को भेजा जाये।

किसानों ने कहा के DM ने जब ३.५ हेक्टेयर का प्लान आगरा एयरपोर्ट का प्लान २०३२ के ग्रोथ पर बना है। आगरा इंटरनेशनल सिटी है, प्रगति होना आवयश्क है। इसलिए शासन आज जमीन ले और इंटरनेशनल मानक का सिविल एन्क्लेव बनाये। आगरा एयरपोर्ट पर कार्गो हब का प्लानिंग नहीं है।

दूसरा बाउंड्री कि दीवार टेडी मेढ़ी है जिसकी वजह से पूरे एन्क्लेव में कई टुकड़े के हिसाब से कई किसानों कि जमीन छूट गयी है। किसान के साथ यह अन्‍याय है और किसान वहां पर कुछ कार्य नहीं कर सकता। विकास के दौर में ४५ हेक्टेयर जमीन का कोई उपयोग नहीं है। बाउंड्री वाल के १०० mtr के दायरे में कोई भी कंस्ट्रक्शन नहीं हो सकता।
साथ ही इस जमीन पर पहुंचने के लिये आज का रास्ता बंद होगा। किसानों को ५ से 6 किलोमीटर घूम कर आना पड़ेगा।
किसानों ने भलेरा और अभयपुरा के लिये सुगम रास्ता बनाया जाये और बाकी की बची जमीन ली जाये। अगर नहीं ली जाती तो किसानों को बहुत लम्बा रास्ता तय करना पड़ेगा।
आगरा में स्‍थिति ये है कि किसान जमीन देने को तैैयार हैं और शासन लेने को तैयार नहीं और दूसरी तरफ जेवर में किसान देने को तैयार नहीं है।
किसान प्रशासन और शासन को एफिडेविट दे कर फिर से अपनी सहमति देंगे। साथ ही किसान उस पूरे एरिया का मानचित्र अपने सुझाव के साथ अब आगे की बात करेंगे।
सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ने किसानों का पूरा पूरा साथ देने का आश्वासन दिया।
आज की मीटिंग में सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा के शिरोमणि सिंह, राजीव सक्सेना और अनिल शर्मा; निहाल सिंह भोले, नरेन्द्र वरुण, अधिवक्ता एच एस वर्मा और भलेरा और अभयपुरा के किसान भी थे।
जिस स्कूल में मीटिंग हुई, वहां पानी भरा था। पानी भराव के कारण भलेरा गाँव की हालत खराब है। सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा यह मुद्दा भी उठाएगी।
सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा की टीम ने बाउंड्री वाल का अवलोकन किया। PWD के इंजिनियर श्री दुबे से जानकारी ली. श्री दुबे ने बताया कि आज के हिसाब से सितम्बर तक बाउंड्री वाल का निर्माण हो जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »