Lucknow में हो सकता है भारत और वेस्टइंडीज के बीच टी-20 मुकाबला

लखनऊ। यूपी की राजधानी Lucknow वैसे तो तीन इंटरनेशनल क्रिकेट मैच की मेजबानी पहले भी कर चुकी है, लेकिन क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट टी-20 का मुकाबला पहली बार 6 नवंबर को Lucknow  के इकाना स्टेडियम में हो सकता है। भारत और वेस्टइंडीज के बीच होने वाला इंटरनेशनल मुकाबला किस पिच पर होगा, इसको लेकर खेल प्रेमियों में उत्सुकता बनी हुई है। मुकाबले के लिए एक लाल मिट्टी और एक काली मिट्टी की पिच को तैयार किया जा रहा है। इनमें से काली मिट्टी से तैयार की गई पिच पर मुकाबला होने की संभावना अधिक है।
यूपीसीए के सूत्रों के मुताबिक काली मिट्टी पर मैच होना लगभग तय है। हालांकि अंतिम फैसला सलाहकार दलजीत सिंह के आने के बाद 30 नवंबर के बाद लिया जाएगा। इस बारे में दलजीत सिंह ने कहा कि मैं Lucknow आकर दोनों पिच देखूंगा उसके बाद ही इस पर कुछ कह सकता हूं। सेंटर में एक लाल और एक काली मिट्टी की पिच तैयार की जा रही है।
हाल ही में इस स्टेडियम में हुए इंटरनेशनल अंडर-19 क्रिकेट मैच के दौरान विकेट अच्छा खेला। टी-20 मैच में दोनों तरह की मिट्टी में रन बनते है। उदाहरण के लिए मुंबई में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत ने जो एकदिवसीय मैच हुआ था लाल मिट्टी की पिच होने के बावजूद उसमें जमकर रन बरसे। ऐसे में काली मिट्टी वाली पिच पर ही मैच होगा कहना थोड़ी जल्दबाजी होगा। इकाना स्टेडियम में कुल 9 पिच हैं। पांच पिच मुंबई की लाल मिट्टी से, जबकि चार पिच कटक से आयातित काली मिट्टी से बनाई गई हैं।
क्यूरेटर बोले, टी-20 के लिए मुफीद है पिच
उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) के पिच क्यूरेटर शिवकुमार ने शुक्रवार इकाना स्टेडियम की पिच का मुआयना किया। इस दौरान उन्होंने इकाना के क्यूरेटर से घंटों बात की और पिच के बारे में हर जानकारी जुटाई। उन्होंने कहा कि इकाना की पिच बल्लेबाजों के मुफीद होगी और जमकर रन बनेंगे। पहले टी-20 मैच में दर्शको का भरपूर मनोरंजन होना तय है ।
…इसलिए रोज होगी दो घंटे फॉगिंग
टी-20 का मुकाबला डे-नाइट है। ऐसे में तेज रोशनी होगी। रोशनी से कीड़े दर्शको और खिलाड़ियों के लिए परेशानी का कारण न बनें इसके लिए स्टेडियम में लगातार फॉगिंग करवाई जा रही है। स्टेडियम प्रबंधन के अनुसार मैच के दौरान कीड़े परेशानी की वजह नहीं बनेंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »