मुगलों से पहले दिल्ली की जामा मस्जिद का नाम था ‘जमुना देवी मंदिर’: Vinay Katiyar

नई दिल्‍ली। अयोध्या मामले पर चल रही बहस के बीच भाजपा सांसद  Vinay Katiyar ने गुरुवार को दावा किया कि मुगल शासकों ने अपने शासन के दौरान भारत में करीब 6000 जगहों को ढहाया था।

अब कटियार ने बयान दिया है कि दिल्ली की जामा मस्जिद को मुगलों के शासन से पहले ‘जमुना देवी मंदिर’ के नाम से जाना जाता था। कटियार ने इससे पहले ताजमहल को हिंदू धर्म का मंदिर बताया था। बता दें, 17वीं सदी में जामा मस्जिद को मुगल बादशाह शाहजहां ने बनाया था, ताजमहल और लाल किले का निर्माण भी इन्होंने ही करवाया था।

विनय कटियार ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा, ‘मुगल बादशाहों ने करीब 6000 जगहों को ढहाया था। जैसे ताजमहल पहले तेजो महालय था, वैसे ही दिल्ली की जामा मस्जिद पहले जमुना देवी मंदिर थी।’

विनय कटियार ने पहले भी कई विवादित बयान दिए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने जब ताजमहल को प्रदेश के पर्यटन स्थलों की लिस्ट से हटाया था, तब विनय कटियार ने कहा था कि यह ताममहल नहीं है, पहले यहां पर हिंदू मंदिर था। Vinay Katiyar ने इसे तेजो महालय का नाम दिया था।

-एजेंसी