चुनाव से पहले ही विपक्ष ने EVM पर सवाल उठाकर हार के बहाने खोज लिए: पीएम

मुंबई। 2019 लोकसभा चुनाव के लिए ऐक्शन मोड में आ चुके पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को विपक्ष पर करारा तंज कसा। पीएम ने कहा कि विपक्ष के लोगों ने चुनाव से पहले ही हार के बहाने खोज लिए हैं। ये लोग अभी से EVM पर सवाल उठाने लग गए हैं।
एक दिन पहले शनिवार को कोलकाता में ममता बनर्जी के मंच पर जुटे विपक्ष पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा, ‘उन्होंने भी गठबंधन किया है और हमने भी किया है। उन्होंने दलों के साथ गठबंधन किया है और हमने देश की सवा सौ करोड़ जनता से किया है। आप लोग बताइए कौन सा गठबंधन ज्यादा बढ़िया है।’
मुंबई में कोल्हापुर के बूथ वर्कर्स से बातचीत में पीएम ने EVM को लेकर सवाल उठाने पर विपक्ष को घेरते हुए कहा, ‘ये लोग अभी से ही हार (2019 लोकसभा चुनाव) को लेकर बहाने खोजने लगे हैं। EVM को विलेन बताने लगे हैं। यह स्वाभाविक है कि हर राजनीतिक पार्टी चुनाव जीतना चाहती है, लेकिन जब कुछ दलों को जनता का आशीर्वाद मिलता तो वे परेशान हो जाते हैं। वे लोग जनता को बेवकूफ समझते हैं और इसलिए रंग बदल रहे हैं।’
‘ये नामदारों का बंधन है…अद्भुत संगम है’
इस दौरान ममता की रैली पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘वहां मंच पर मौजूद नेताओं में ज्यादातर लोग किसी बड़े नेता के बेटे थे। कुछ ऐसे भी थे जो अपने बेटे-बेटी को सेट करने में लगे हैं। उनके पास धनशक्ति है और हमारे पास जनशक्ति है।’ महागठबंधन पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा, ‘ये गठबंधन एक अनोखा बंधन है। ये बंधन तो नामदारों का बंधन है। ये बंधन तो भाई-भतीजावाद, भ्रष्टाचार, घोटालों, नकारात्मकता और असमानता का गठबंधन है। ये एक अद्भुत संगम है।’
‘विपक्ष को किसी संस्था पर भरोसा नहीं’
पीएम ने कहा, विपक्ष के लोगों को किसी भी संस्था पर भरोसा नहीं है, इसलिए ये संवैधानिक संस्थाओं को बदनाम करने की कोशिश करते रहते हैं। विपक्ष की कोशिश को नकारात्मक बताते हुए मोदी ने कहा कि जिस मंच से ये लोग लोकतंत्र बचाने की बात कर रहे थे, वहीं पर एक नेता ने बोफोर्स घोटाले की याद दिला दी। आखिर सच जुबान पर आ ही जाता है। बता दें कि लोकतांत्रिक जनता दल के संस्थापक और वरिष्ठ समाजवादी नेता शरद यादव ने राफेल पर मोदी सरकार को घेरने की जगह अपने भाषण में बोफोर्स घोटाले पर बोलने लगे। बाद में उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि मैं राफेल की बात कर रहा था।
’10 प्रतिशत आरक्षण से खुलेगा अवसरों का नया द्वार’
उधर, सवर्ण आरक्षण का मुद्दा उठाते हुए मोदी ने कहा, ‘संविधान संशोधन द्वारा 10 प्रतिशत आरक्षण से अवसरों का नया द्वार खुलेगा। हम शिक्षण संस्थानों में 10 प्रतिशत सीटें भी बढ़ाएंगे। किसी भी पिछड़े दलित या अनुसूचित जाति के लोगों का हक छीना नहीं जाएगा।’
‘बीजेपी के कार्यकर्ताओं की पहचान मां भारती के लाल के रूप में’
इस मौके पर बीजेपी कार्यकर्ताओं की प्रशंसा करते हुए पीएम ने कहा, ‘कार्यकर्ताओं के संघर्ष और पार्टी को आगे ले जाने के लिए उनके द्वारा दिन-रात की जा रही कोशिश को देखर मुझे बड़ा संतोष होता है। बीजेपी के कार्यकर्ताओं में जज्बा, ईमानदारी, काम के प्रति लगन कूट-कूटकर भरी है। मैं तो यही कहूंगा कि बीजेपी संगठन आधारित राजनीतिक आंदोलन है। पुरानी सरकार के कार्यकाल के कारण राजनीतिक कार्यकर्ताओं की पहचान दलालों के रूप में होने लगी थी, लेकिन बीजेपी के कार्यकर्ता की पहचान मां भारती के लाल के रूप में होती है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »