सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में BCA है बेहतर विकल्प

मथुरा। राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट से आज BCA की डिग्री प्राप्त करके छात्र-छात्राएं देश ही नहीं विदेशों में भी उच्च पैकेज पर जॉब कर रहे हैं। यहां के छात्र-छात्राएं BCA करने के बाद सरकारी और गैर सरकारी दोनों क्षेत्रों में डाटा बेस इंजीनियर, नेटवर्क इंजीनियर, कम्प्यूटर प्रोग्रामर बन रहे हैं। अब तक कैम्पस प्लेसमेंट के माध्यम से राजीव एकेडमी के अनेक छात्र-छात्राओं को मल्टीनेशनल कम्पनियों इंफोसिस, टीसीएस., विप्रो, एचसीएल आदि में उच्च पैकेज पर जॉब मिल चुके हैं। गौरतलब है कि राजीव एकेडमी के अनेक छात्र बैंकिंग क्षेत्र में आईटी ऑफीसर तथा पुलिस व सूचना विभाग में साइबर क्राइम विशेषज्ञ जैसे महत्वपूर्ण पदों पर नौकरी प्राप्त करके राष्ट्र सेवा कर रहे हैं।

राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलॉजी एण्ड मैनेजमेंट के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने बीसीए कोर्स की विशेषताएं बताते हुए कहा कि राजीव एकेडमी में जहां सीनियर और प्रबुद्ध शिक्षकों द्वारा शिक्षण दिया जाता है वहीं यहां बीसीए कोर्स की कक्षाओं में निर्धारित पाठ्यक्रम के अतिरिक्त छात्र-छात्राओं की पीडीपी क्लासेज भी होती हैं जिनके चलते वे प्लेसमेंट इण्टरव्यू में बड़ी सरलता से सफल हो जाते हैं। राजीव एकेडमी में बीसीए कोर्स को छात्र-छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य के दृष्टिकोण से और बेहतर बनाने के लगातार प्रयास हो रहे हैं। संस्थान में बीसीए कोर्स वर्ष 1998 से सफलतापूर्वक संचालित है। डा. सक्सेना का कहना है कि इंटरमीडिएट (10+2) गणित विषय के साथ उत्तीर्ण करने के बाद छात्र-छात्राएं त्रिवर्षीय बीसीए डिग्री कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं।

आर.के. एजुकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल, वाइस चेयरमैन पंकज अग्रवाल और एम. डी. मनोज अग्रवाल का कहना है कि तकनीकी और व्यावसायिक शिक्षण समय की मांग है। आज सरकारी और गैर सरकारी सभी प्रकार के दफ्तर कम्प्यूटर से पूरी तरह लैस हैं, लिहाजा बीसीए डिग्रीधारकों की मांग लगातार बढ़ रही है। बीसीए सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में बेहतर विकल्प है अतः उच्च गुणवत्तायुक्त प्रतिष्ठित संस्थान से व्यावसायिक डिग्री हासिल कर आज की युवा पीढ़ी अपने सपनों को पंख लगा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »