द फैमिली मैन 2 पर बैन की मांग, अन्‍यथा परिणाम भुगतने की चेतावनी

मुंबई। मनोज बाजपेयी और सामंथा अक्किनेनी के लीड रोल वाली वेब सीरीज द फैमिली मैन 2 पर तमिल राज्य सभा सासंद वाइको ने सख्त आपत्ति दर्ज कराई है। उन्होंने सरकार से कहा है कि अगर सीरीज पर बैन न लगाया गया तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें।
मनोज बाजपेयी और सामंथा स्टारर वेब सीरीज ‘द फैमिली मैन 2’ का जबसे ट्रेलर रिलीज हुआ है, यह विवादों में आ गई है। सीरीज के ट्रेलर को देखकर लगता है कि इसकी कहानी श्री लंका के तमिल उग्रवादी समूह एलटीटीई (LTTE) पर आधारित है जिसके कारण तमिल समुदाय इसका विरोध कर रहा है। तमिल लोगों का आरोप है कि ‘द फैमिली मैन’ में तमिल समुदाय को आतंकवादी संगठन के तौर पर दिखाया गया है। अब एमडीएमके के राज्य सभा सांसद वाइको (Vaiko) ने सख्त एतराज जताते हुए वेब सीरीज को बैन किए जाने की मांग की है।
बोले, तमिलों को आतंकवादी और ISI एजेंट दिखाया
सांसद वाइकों ने एक शिकायती पत्र सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर को लिखा है। अपने पत्र में वाइको ने कहा है कि मंत्रालय को इस वेब सीरीज के सेकेंड सीजन पर रोक लगानी चाहिए जो 4 जून से ऐमजॉन प्राइम वीडियो पर प्रसारित होने वाला है। उन्होंने अपने पत्र में तीखी आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा है कि इस सीरीज में तमिल लोगों को आतंकवादी और आईएसआई के एजेंट के तौर पर दिखाया गया है जिनका संबंध पाकिस्तान से है।
वाइको ने सरकार को दी है सीधी चेतावनी
वाइको ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि तमिल ईलम के लिए समुदाय ने अपना बलिदान दिया है, ऐसे में उन्हें आतंकवादी के तौर पर दिखाया जाना गलत है। वाइको ने जावडेकर से इस पर तुरंत एक्शन लिए जाने की मांग की है। साथ ही चेतावनी दी है कि अगर ऐसा नहीं होता है तो तमिलनाडु के लोग इसका विरोध करेंगे और सरकार को इसके परिणाम भुगतने होंगे।
क्या है सीरीज में?
‘द फैमिली मैन 2’ के ट्रेलर में दिखाया गया है कि फिल्म का लीड किरदार श्रीकांत तिवारी (मनोज बाजपेयी) इस बार एक उग्रवादी संगठन के पीछे पड़ा हुआ है। इस उग्रवादी संगठन को कथित तौर पर LTTE बताया जा रहा है। इस सीरीज से हिंदी डेब्यू करने वाली तेलुगू सुपरस्टार सामंथा इसमें एक उग्रवादी राजी के किरदार में नजर आ रही हैं। सीरीज के ट्रेलर के आने के बाद तमिल संगठन सामंथा अक्किनेनी का भी सोशल मीडिया पर विरोध कर रहे हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *