बलदेव छठ: समाज गायन के साथ मनाया ब्रज के राजा दाऊजी महाराज का जन्मोत्सव

मथुरा। आज बलदेव छठ के अवसर पर कोरोना संक्रमण का असर द‍िखा, इसील‍िए बलदेव में ब्रज के राजा दाऊजी महाराज का जन्मोत्सव सादगी पूर्वक मनाया गया। भाद्रपद शुक्ल पक्ष की षष्ठी को ब्रज के राजा और भगवान श्रीकृष्ण के अग्रज बल्देव जी का जन्मदिन ब्रज में बड़े ही उल्लास के साथ मनाया जाता है। कोरोना के कारण ही जो ‘देवछठ’ के दिन दाऊजी में विशाल मेला आयोजित होता है और दाऊजी के मन्दिर में विशेष पूजा एवं दर्शन होते थे वे इस बार नहीं हुए।

पूर्व न‍िर्धार‍ित कार्यक्रम के तहत सोमवार प्रात: एवं दोपहर में दाऊ दादा का विशेष अभिषेक हुआ। उन्हें विशेष पोशाक पहनाई गई। हीरे-जवाहरात धारण कराए गए और इस तरह बलदेव नगर के घर-घर और अन्य मंदिरों में भी बलदेव छठ मनाई गई।

बलदेव स्थित मुख्य दाऊजी मंदिर में सुबह विद्वानों ने बलभद्र सहस्त्रनाम पाठ किया गया। हवन में आहुतियां दी। मंदिर में हल्दी से स्वास्तिक लगाए गए। दोपहर में विशेष अभिषेक किया गया। विशेष प्रकार से निर्मित दही, माखन, हल्दी, केसर आदि के पंचामृत से अभिषेक हुआ। ठाकुर जी का दिव्य शृंगार किया गया।

बाहर के दर्शनार्थियों को ऑनलाइन दर्शन कराए गए। मंदिर प्रांगण में सामाजिक दूरी के साथ समाज गायन हुआ। इसमें ‘जै हलधारी जै बलधारी तेरी जय हो’ ‘बलिहारी जाऊं अपने दाऊ दादा के चरणन में’, ‘ब्रज मच्यौ हल्ला रोहिणी ने जायौ लल्ला’, ‘दाऊ दादा अवतारी महिमा है निराली’, ‘नन्द के आनन्द भए जय दाऊदयाल की…’ आदि पदों का गायन हुआ।

समाज गायन के बाद नंदोत्सव में दधिकांधौं लीला का मंचन हुआ। लाला की छीछी (हल्दी, दही माखन) लुटाया गया। इसके बाद क्षीरसागर की परिक्रमा की गई। मंदिर के रिसीवर आरके पांडेय ने बताया कि मंदिर में दर्शनों पर रोक लगी थी। इससे बाहर के किसी भी व्यक्ति को मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया गया।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *