बी एंड आर विभाग जानबूझ कर मांगी गई सूचना को छुपा रहा है

B & R department deliberately hiding information sought through RTI
बी एंड आर विभाग जानबूझ कर मांगी गई सूचना को छुपा रहा है

अफसरों ने आर टी आई से मांगी गई सूचना को छिपाने के लिए कई नये तरीके व बहाने ढूंढ लिए हैं – श्रीपाल शर्मा

लुधियाना: नगर निगम विभाग के बी एंड आर विभाग ने भ्रष्टाचार व रिश्वत खोरी को छिपाने के लिए पिछले सभी रिकार्ड तोड़ते हुए इस विभाग के  अफसरों ने कई नये तरीके व बहाने ढूंढ लिए हैं और आर टी आई के तहत यदि कोई नागरिक इस विभाग से सुचना मांगता है तो यह विभाग सुचना देने की बजाए 2006 दिल्ली सुचना कमीश्नर के एक फैसले का हवाला देकर अपनी सुचना देने की जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं।
आर टी आई एक्टिविस्ट श्रीपाल शर्मा  एडवोकेट ने एक सुचना बी एंड आर विभाग से 15 मार्च 2017को मांगी थी जिसमें वार्ड नंबर 30 की सड़क निर्माण के टेंडर, ठेकेदार का नाम, जे ई, एस डी ओ आदि की जानकारी 20 मार्च 2015 से लेकर 31 जनवरी 2017 मांगी गई थी।
नगर निगम लुधियाना के जोन ए के सूचनाधिकारी ने सड़क निर्माण की सूचना देने की बजाए दिल्ली सूचना कमीश्नर के एक फैसले का हवाला देकर अपना पीछा छुड़वा लिया। जिससे जाहिर होता है कि लुधियाना का बी एंड आर विभाग करोड़ों रूपये की हेरा फेरी के रिकार्ड की  सुचना देने से कतरा रहा है और जानबूझ कर  मांगी गई सूचना को छुपा रहा है।  नगर निगम कमीश्नर से मांग है कि मांगी गयी सुचना शीघ्र उपलब्ध कराई जाए ताकि बी एंड आर ब्रांच की सड़क निर्माण में करोड़ो रूपये के घपले व  हेराफेरी का  पर्दाफाश हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *