आजमगढ़: प्रधान की हत्या के आरोपियों पर रासुका, गैंगस्टर और इनाम

आजमगढ़। उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में हुई ग्राम प्रधान की हत्या के आरोपियों के खिलाफ रासुका और गैंगस्टर एक्ट लगाने के साथ ही 25 हजार का इनाम भी घोषित कर दिया गया है। सभी आरोपी फरार हैं, उनके परिजन को हिरासत में लिया गया है। मृतक प्रधान के परिजन ने जातिगत कारणों से हत्या का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि आरोपी सवर्ण जाति के हैं और उन्हें एक ऐसे दलित का ग्राम प्रधान हो जाना बर्दाश्त नहीं था, जो उनकी हां में हां नहीं मिलाए।
आजमगढ़ जिले के तरवां थाना क्षेत्र के बांसगांव ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते उर्फ पप्पू राम की शुक्रवार की शाम को गोली मारकर हत्या कर दी गई। बाइक सवार बदमाशों ने 42 वर्षीय ग्राम प्रधान को घर से बुलाकर गोली मारी। पुलिस और पब्लिक की भगदड़ में 8 साल के एक बच्चे की मौत हो गई। नाराज भीड़ ने कई गाड़ियों के साथ ही बोंगरिया पुलिस चौकी में आगजनी भी की। कई थानों की फोर्स और पीएसी जवान तैनात हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक ग्राम प्रधान के परिजन ने गांव के ठाकुर और ब्राह्मण सवर्णों पर आरोप लगाया है कि उन्हें एक दलित प्रधान का उनके सामने ही सिर ऊंचाकर चलना नागवार गुजर रहा था। जी-हुजूरी ना करने के अलावा कुछ अन्य बातें भी रहीं। परिजन का कहना है कि बीते कुछ समय से हमने मेहनत से 15 बीघा जमीन खरीद ली थी। इसके साथ ही आरोपियों में से एक की जमीन पर सड़क निर्माण को लेकर भी पुरानी खुन्नस थी।
पुलिस ने इस हत्याकांड में विवेक सिंह भोलू, सूर्यांश कुमार दुबे, बृजेंद्र सिंह गप्पू, वसीम के खिलाफ केस दर्ज किया है। आजमगढ़ रेंज के डीआईजी सुभाष चंद्र दुबे ने कहा, ‘वजह जो कुछ भी हो, एक चुने हुए प्रधान की हत्या गंभीर अपराध है। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही कुछ खुलासा हो सकेगा।’ वहीं प्रदर्शन के दौरान 8 साल के बच्चे की पुलिस की गाड़ी से दबकर मौत के मामले में उन्होंने कहा कि अभी जांच की जा रही है।
ग्राम प्रधान 30 सदस्यों वाले एक बड़े संयुक्त परिवार में रहते थे। परिजन का कहना है कि काफी सोच-विचार के बाद उनका काम ‘सत्यमेव जयते’ रखा गया था। वहीं उनके भतीजे का नाम दास प्रथा समाप्त करने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति के नाम पर ‘लिंकन’ रखा गया। मृतक प्रधान के 3 बच्चे हैं, जिसमें से सबसे बड़े की उम्र 12 साल है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *