इलाज में कारगर है AYUSH 64, आयुष मंत्रालय द्वारा दिल्ली में मुफ्त व‍ितरण

नई द‍िल्ली। कोरोना के इलाज में कारगर साबित हो रही आयुष- 64 दवा का आयुष मंत्रालय मुफ्त में बांटी जा रही है. अब दिल्ली में भी आज से 7 जगहों पर इस दवा को मुफ्त में बांटा जाएगा.

आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) ने सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट (CSIR) और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की निगरानी में देश के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करीब 140 मरीजों पर इस दवा का टेस्ट किया है. स्टडी में सामने आया कि ये दवाई लेने के बाद कोरोना मरीज जल्दी स्वस्थ हुए हैं और उनका RT-PCR टेस्ट उम्मीद से पहले नेगेटिव हुआ है.

दिल्ली में आज से निशुल्क वितरण के कई और केंद्र चालू हो जायेंगे. होम आइसोलेशन या कुछ सरकारी/गैर सरकारी संगठनों की ओर से ऑपरेट किए जा रहे आइसोलेशन सेंटरों में रह रहे कोविड-19 के मरीज आयुष मंत्रालय की इस पहल का फायदा उठा सकते हैं.

सेंटर पर लेकर जाएं आधार
मरीज या उनके प्रतिनिधि आयुष-64 की गोलियों का एक मुफ्त पैक पाने के लिए मरीज की आरटी पीसीआर पॉजिटिव रिपोर्ट और उसके आधार कार्ड की हार्ड या सॉफ्ट कॉपी के साथ इन केंद्रों पर जा सकते हैं. जरूरी होने पर, इन गोलियों की और डोज भी मरीज को दी जाएगी.

यहां इस बात पर गौर किया जा सकता है कि आयुष -64 एक पॉली हर्बल औषधि है, जिसे कोविड -19 के बिना लक्षण वाले, हल्के और मध्यम स्तर के संक्रमण के इलाज में फायदेमंद पाया गया है. आयुष-64 की सिफारिश आयुर्वेद और योग पर आधारित राष्ट्रीय नैदानिक प्रबंधन प्रोटोकॉल में की गई है.

दवा को आईसीएमआर की टास्क फोर्स और होम आइसोलेशन में रहने वाले कोविड -19 के मरीजों के लिए आयुर्वेदिक डॉक्टरों के दिशानिर्देश के बाद सत्यापित किया गया है. इस दवा का टेस्ट भी आईसीएमआर के पूर्व महानिदेशक डॉ. वी. एम. कटोच की अध्यक्षता वाली कमेटी की निगरानी में किया गया है. इसके बाद ही इसे कोविड -19 के मरीजों के मानक देखभाल के अतिरिक्त एक उपाय के तौर पर जोड़ा गया है.

असरदार साबित हुई है दवा

आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) ने सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट (CSIR) और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की निगरानी में देश के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करीब 140 मरीजों पर इस दवा का टेस्ट किया है. स्टडी में सामने आया कि ये दवाई लेने के बाद कोरोना मरीज जल्दी स्वस्थ हुए हैं और उनका RT-PCR टेस्ट उम्मीद से पहले नेगेटिव हुआ है.
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *