न्यू अर्बन इंडिया एक्सपो में आकर्षण का केंद्र बना अयोध्या के विकास का मॉडल

लखनऊ में आयोजित न्यू अर्बन इंडिया एक्सपो में आकर्षण का केंद्र बना राम मंदिर और अयोध्या का विकास मॉडल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदर्शनी देखते वक्त बारीक जानकारी ली। रामनगरी अयोध्या के मास्टरप्लान को हॉल के सेंटर में रखा गया था। अयोध्या में राम मंदिर बीजेपी के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है और यूपी विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी का सारा फोकस इसी पर है।
इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में चल रहे न्यू अर्बन इंडिया कॉल्क्लेव में केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से प्रदर्शनी लगाई गई है। दोनों के दो अलग-अलग पवेलियन हैं। राज्य सरकार के पवेलियन में खासतौर से अयोध्या के विकास को फोकस किया गया है। इसमें दिखाया गया कि मंदिर निर्माण के साथ ही कैसे अयोध्या बदलने वाली है। इसमें पुरानी अयोध्या और नई अयोध्या के दर्शन है।
25 तरह की प्रदर्शनी लगाई गई
राज्य सरकार की इस थीम को ‘नए भारत का नया उत्तर प्रदेश: बदला नगरीय परिवेश’ नाम दिया गया है। इस पवेलियन में यूपी सरकार की विभिन्न योजनाओं के कार्यान्वयन को दिखाया गया है। इस पवेलियन में 25 तरह की प्रदर्शनी लगाई गई हैं।
पीएम मोदी ने देखा राम मंदिर मॉडल
इस दौरान पीएम मोदी ने राम नगरी अयोध्या के मास्टरप्लान को देखा। हॉल के सेंटर में इसे दर्शाया गया है। आने वाले समय में अयोध्या में हर साल एक करोड़ श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है। ऐसे में अयोध्या का विकास कैसे हो, वहां बुनियादी सुविधाओं का विकास कैसे हो, ठहरने की उचित व्यवस्था हो, ट्रांसपोर्टेशन के लिए क्या मास्टरप्लान है, इसकी जानकारी प्रदर्शनी के माध्यम से दी गई।
योजनाओं का लाइव प्रजेंटेशन
इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, अमृत मिशन और स्मार्ट सिटी, अर्बन ट्रांसपोर्ट, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, मेट्रो की उपलब्धियां भी दिखाई गईं। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत प्रदेश के विभिन्न शहरों में आईसीसीआईआईटीएमएस परियोजना का शहरों से लाइव प्रस्तुतिकरण किया गया। पहली पवेलियन केंद्र सरकार की है। इसमें न्यू अर्बन इंडिया थीम पर बने पवेलियन में स्वच्छ भारत मिशन, स्मार्ट सिटी, अर्बन ट्रांसपोर्ट की परियोजनाओं के स्टॉल हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *