अयोध्‍या: सरयू नदी में क्रूज बोट चलाने का प्रस्‍ताव, पर्यटन मंत्री ने देखा प्रजेंटेशन

अयोध्या। राम मंदिर के निर्माण का रास्‍ता साफ होने के साथ अयोध्या के भाग्य खुलने लगे हैं। राम नगरी को पर्यटन के विभिन्न आकर्षणों से जोड़ने की कवायद शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में सरयू नदी में क्रूज बोट चलाई जाएगी। गुप्तार घाट से इसका संचालन होगा। पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी ने इसका विस्तृत प्रजेंटेशन देखा।
मंत्री ने कहा कि अयोध्या के नया घाट पर रामायण काल पर आधारित सेल्फी पॉइंट का भी निर्माण कराया जाएगा। जो क्रूज बोट चलेगी, उस पर एनिमेशन के जरिए रामचरित मानस और रामकथा यात्रा का भी प्रदर्शन किया जाएगा।
क्रूज बोट का इंटीरियर भी रामचरित मानस पर आधारित होगा। पर्यटक बोट के जरिए शाम की सरयू आरती भी देख सकेंगे और उन्हें शाकाहारी भोजन भी प्रसाद के रूप में दिया जाएगा। अयोध्या में पर्यटकों को प्रशिक्षित गाइड उपलब्ध कराने के लिए पर्यटन प्रबंध संस्थान 100 स्थानीय गाइडों का 1 नवंबर से प्रशिक्षित करेगा।
वॉटर लेवलिंग के निर्देश
पर्यटन मंत्री ने सिंचाई विभाग को सरयू नदी में ड्रेनज और वाटर लेवलिंग के निर्देश दिए। मंत्री ने कहा कि वाराणसी में भी वाराणसी-चुनार-मार्केण्डेय महादेव रूट पर क्रूज संचालित किया जाएगा। चुनार किले को कैम्पिंग साइट के रूप में विकसित किया जाएगा।
उन्होंने अधिकारियों को चुनार किले के समेकित विकास की पर्यटन योजना बनाने के भी निर्देश दिए। प्रजेंटेशन में प्रमुख सचिव पर्यटन व संस्कृति मुकेश मेश्राम, महानिदेशक एनजी रवि कुमार व अन्य अधिकारी मौजूद थे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *