AUSvIND टेस्ट में भारतीय गेंदबाजों का जलवा, ऑस्ट्रेलिया के 6 विकेट झटके

AUSVIND के बीच पर्थ में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर रही है

पर्थ। भारतीय गेंदबाजों ने पर्थ के नवनिर्मित ऑप्टस स्टेडियम की तेज और उछाल वाली पिच पर अपना कारनामा दिखाते हुए ऑस्ट्रेलिया के छह विकेट झटक लिए हैं। हनुमा विहारी और बुमराह ने अभीतक तो मैच को अपने नाम कर रखा है।

AUSVIND के बीच पर्थ में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर रही है। समाचार लिखे जाने तक कंगारू टीम ने छह विकेट के नुकसान पर 251 रन बना लिए हैं।
क्रीज पर कप्तान टिम पेन (7) और नए बल्लेबाज पैट कमिंस (0) मौजूद हैं। दोनों के बीच सातवें विकेट के लिए 1 रन की साझेदारी हो चुकी है।
हनुमा विहारी का जलवा

बिना किसी स्पेशलिस्ट स्पिनर के दूसरे टेस्ट में उतरी टीम इंडिया के लिए हनुमा विहारी ने गजब का खेल दिखाया। मध्यक्रम में मजबूत बल्लेबाजी के लिए पहचाने जाने वाले हनुमा विहारी ने अपनी पार्ट टाइम फिरकी से ऑस्ट्रेलिया के लिए खूब परेशानी खड़ी की।

शॉन मार्श और ट्रेविस हेड के बीच पांचवें विकेट के लिए 84 रन की साझेदारी हो चुकी थी। सभी गेंदबाजों को आजमाने के बाद विराट ने एक विकेट झटक चुके हनुमा विहारी को दोबारा गेंद थमाई। कप्तान की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए विहारी ने खतरनाक साबित हो रहे शॉन मार्श को स्लिप्स में रहाणे के हाथों कैच आउट करवाया। आउट होने से पहले मार्श ने 98 गेंदों में 45 रन बनाए।

टी-सेशन के तुरंत बाद झटका

ऑस्ट्रेलियाई टीम चायकाल के बाद 3/145 रन के स्कोर से आगे खेलना शुरू करती है। अभी स्कोर में तीन रन ही जुड़े थे कि दूसरे ओवर में ही इशांत शर्मा ने हैंड्सकॉम्ब (7) को चलता किया। दूसरे स्लिप में खड़े कप्तान विराट कोहली ने एक शानदार कैच लेते हुए यह विकेट मुमकिन किया।

लगातार दो झटके

किसी वक्त 112 रन पर एक विकेट के नुकसान पर खेल रही ऑस्ट्रेलियाई टीम महज 22 रन के भीतर अपने दो और अहम विकेट गंवा गई। पहले उमेश यादव ने उस्मान ख्वाजा (5) को विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों लपकवाया। टीम अभी इस झटके से संंभली ही नहीं थी कि आज अच्छे रंग में नजर आ रहे सलामी बल्लेबाज मार्कस हैरिस भी चलते बने।

बिना किसी स्पेशलिस्ट स्पिनर के खेल रही भारतीय टीम के लिए पार्ट टाइम गेंदबाज हनुमा विहारी ने यह सफलता दिलाई। 134 के स्कोर पर 70 रन का योगदान कर चुके मार्कस हैरिस स्पिनर हनुमा विहारी की एक अतिरिक्त उछाल वाली गेंद को समझ नहीं पाए और विकेटकीपर ऋषभ पंत द्वारा कैच आउट हुए।

बुमराह ने तोड़ी साझेदारी

पहले टेस्ट में नाकाम रहे सलामी बल्लेबाज फिंच से पर्थ टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को बड़ी उम्मीद थी। जिस पर खरा उतरते हुए उन्होंने न सिर्फ अपनी टीम को ठोस शुरुआत दिलाई बल्कि संयमित बल्लेबाजी करते हुए 150 गेंदों में 50 रन बनाए। अपनी पारी में उन्होंने 6 चौके जड़े। यह उनके टेस्ट क्रिकेट करियर का दूसरा अर्धशतक है।

पहले विकेट के लिए फिंच ने हैरिस के साथ मिलकर 112 रन की साझेदारी की। अर्धशतक पूरा करने के बाद फिंच सिर्फ 2 गेंदें ही खेल सके और जसप्रीत बुमराह का शिकार बन गए। वह बुमराह की गेंद को क्रीज पर पड़ने के बाद भांप नहीं पाए और एलबीडब्ल्यू आउट हो गए।

लंच ब्रेक तक मेजबान टीम का पलड़ा भारी
लंच ब्रेक तक मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम का पलड़ा भारी रहा। ऑस्ट्रेलिया ने सधी हुई शुरुआत का भरपूरा फायदा उठाया। पारी का आगाज करने आए आरोन फिंच और मार्कस हैरिस ने बिना हड़बड़ी के बल्लेबाजी की। नतीजतन लंच तक मेजबान टीम ने बिना कोई विकेट खोए 66 रन बनाए।

बता दें कि यह मुकाबला पर्थ के वाका की जगह नवनिर्मित ऑप्टस स्टेडियम की तेज और उछाल वाली पिच पर हो रहा है। ऑप्टस स्टेडियम टेस्ट क्रिकेट का 117वां मैदान है। यह ऑस्ट्रेलिया का 10वां टेस्ट क्रिकेट स्टेडियम है, साथ ही पर्थ में वाका के बाद यह दूसरा स्टेडियम है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »