आपत्तिजनक टेक्‍स्‍ट स्‍कैंडल के चलते ऑस्ट्रेलियाई कप्‍तान टिम पेन का इस्‍तीफा

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर टिम पेन (Tim Paine) ने एक महिला सहकर्मी को आपत्तिजनक तस्वीर और मैसेज भेजने के मामले की जाँच को देखते हुए टेस्ट टीम की कप्तानी से इस्तीफ़ा दे दिया है.
36 साल के टिम पेन पर 2017 में क्रिकेट तस्मानिया की एक महिला सहकर्मी को अश्लील तस्वीरें और भद्दे मैसेज भेजने का आरोप लगा था. कुछ महीने पहले उन्हें सात साल तक बाहर रहने के बाद टेस्ट टीम में दोबारा चुना गया था.
क्रिकेट तस्मानिया ऑस्ट्रेलिया राज्य तस्मानिया की तरफ़ से खेलती है. टिम पेन भी इसी टीम में खेला करते थे. इस मामले की क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया जाँच कर रहा है.
टिम पेन का ये फ़ैसला एशेज टेस्ट सीरीज़ से पहले आया है. ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच आठ दिसंबर से एशेज सीरीज़ शुरू होनी है.
मौजूदा उप-कप्तान और गेंदबाज पैट कमिंस के उनकी जगह लेने की संभावना है.
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने टिम पेन का इस्तीफ़ा स्वीकार कर लिया है और नए कप्तान की नियुक्ति करने वाला है लेकिन बल्लेबाज-विकेटकीपर टिम पेन अब भी टीम में बने रहेंगे.
क्रिकेट तस्मानिया से आए टिम पेन को 2018 में कप्तान बनाया गया था. गेंद से छेड़छाड़ मामले में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्टीव स्मिथ पर प्रतिबंध लगने के बाद टिम पेन कप्तान बने थे.
टिम पेन ने क्या कहा
टिम पेन ने शुक्रवार को मामले की जांच के बारे में बात की और बयान जारी किया. उन्होंने कप्तान का पद छोड़ने के फ़ैसले को ”बेहद कठिन लेकिन अपने, अपने परिवार और क्रिकेट के लिए सही” बताया.
उन्होंने कहा, “चार साल पहले मेरी उस समय की एक महिला सहकर्मी के साथ मैसेज में बात हुई थी. हालांकि, मैं दोषमुक़्त हो गया था लेकिन मुझे उस समय इस घटना का गहरा अफ़सोस था और आज भी है. मैंने उस समय अपनी पत्नी और परिवार से बात की और उनकी माफ़ी और समर्थन के लिए बहुत आभारी हूं.”
”मैं अपनी पत्नी, अपने परिवार और दूसरे पक्ष को पहुँची चोट और परेशानी के लिए बहुद खेद प्रकट करता हूं. मेरी वजह से हमारे खेल की प्रतिष्ठा को हुए किसी भी तरह के नुक़सान के लिए मैं माफ़ी मांगा हूं.”
टिम पेन ने कहा, ”मुझे लगा था कि ये घटना अब पीछे छूट गई है. और मैं पूरी तरह अपनी टीम पर ध्यान दे सकता था, जैसा कि मैंने पिछले तीन या चार सालों में किया. लेकिन हाल ही में मुझे पता चला कि हमारे निजी टेक्स्ट सार्वजनिक होने वाले थे.
“मैं पीछे लौटकर देखता हूँ तो लगता है कि 2017 में मैंने जो किया वो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट कप्तान के मानदंड पर, या समाज के मानदंड पर भी उचित नहीं है.”
पेन ने उस समय भेजे गए मैसेज के बारे में नहीं बताया लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की न्यूज़ वेबसाइट पर इसे “2017 में क्रिकेट तस्मानिया के एक पूर्व कर्मचारी से जुड़ी सेक्सटिंग की घटना” नाम दिया गया है.
उन्होंने कहा, “उस समय हुई बातचीत पूरी तरह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इंटेग्रिटी यूनिट की जांच का विषय था, जिसमें मैंने पूरी तरह से भाग लिया और खुले तौर पर भाग लिया.”
“उस जाँच और क्रिकेट तस्मानिया एचआर की जाँच ने पाया कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं हुआ था.”
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *