ऑस्ट्रेलिया के कोच Justin Langer ने कहा- धोनी सबके लिए आदर्श खिलाड़ी

मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया के कोच Justin Langer ने वनडे सीरीज में महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी की तारीफ की। Justin Langer ने कहा, “धोनी एक सुपरस्टार और इस खेल के ऑल टाइम ग्रेट खिलाड़ी हैं। 37 साल की उम्र में उनकी फिटनेस से हमारे युवा खिलाड़ियों को सीख लेनी चाहिए।”

धोनी तीसरे वनडे में 114 गेंद की पारी में 87 रन बनाकर नॉट आउट रहे। तीन मैच की सीरीज में उन्होंने 3 अर्धशतक की मदद से कुल 193 रन बनाए। भारत ने सीरीज को 2-1 से अपने नाम किया।

लैंगर ने कहा, “धोनी इस उम्र में जिस तरह विकेटों के बीच में दौड़ लगाते हैं वह तारीफ के काबिल है। लगातार तीन दिन 40 डिग्री तापमान में इस तरह दौड़ना बेहतरीन है ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को उनके जैसा बनने की कोशिश करनी चाहिए।”

ऑस्ट्रेलियाई कोच ने कहा, “धोनी, विराट कोहली और टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा। ये सभी महान खिलाड़ी हैं। उन्होंने हमें आदर्श खिलाड़ी दिए। धोनी का रिकॉर्ड एक कप्तान, बल्लेबाज और विकेटकीपर के तौर उनकी काबिलियत को साबित करता है। ऐसे खिलाड़ियों से हारना दुखद है, लेकिन उनके खिलाफ खेलना गर्व की बात है।”

Justin Langer ने कहा, “धोनी का कैच दो बार छूटा। एक बार शून्य और दूसरी बार 74 रन पर। उनकी टीम ने इस गलती का खामियाजा भुगता। धोनी ने हमारे युवाओं को सिखाया कि कैसे खेलना चाहिए। यह हमारे बल्लेबाजों के लिए सबक था।”

गौरतलब है कि  मेलबर्न में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से एकदिवसीय सीरीज में मात देने के साथ ही कई ऐसे रिकॉर्ड बना डाले, जिसके बारे में किसी ने सोचा तक नहीं होगा। विराट कोहली के कप्तानी में टीम के लगभग सभी मेंबर्स का योगदान अहम था, लेकिन जो महेंद्र सिंह धोनी ने कर दिखाया, वह काबिलेतारीफ है. एमएस धोनी ने तीन मैचों की सीरीज में लगातार तीन हॉफ सेंचुरी जड़ी, जिसमें दो बार नाबाद मैच जिता कर लौटे। इतना ही नहीं, धोनी को मैन ऑफ द सीरीज के खिताब से नवाजा गया। धोनी को लेकर काफी लंबे समय से यह सवाल उठ रहा था कि उनकी उम्र ज्यादा हो गई है तो उन्हें रिटायरमेंट ले लेना चाहिए। ऐसे में हमेशा की तरह इस बार भी धोनी ने अपने बल्ले से करारा जवाब दिया है।-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »