बुलंदशहर में थाने पर हमला, पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सहित 2 की मौत

बुलंदशहर। यूपी के बुलंदशहर जिले में कथित गोहत्‍या के शक में सोमवार को भारी बवाल हो गया। हिंसा में पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो लोगों की मौत से इलाके में तनाव है। बताया जा रहा है कि अवैध बूचड़खाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पुलिस थाने पर हमला कर दिया और जमकर तोड़फोड़ की। यही नहीं इस दौरान उपद्रवियों ने पुलिस की एक वैन में आग लगा दी। बवाल के दौरान पुलिस पर फायरिंग की गई, जिसमें स्‍याना के पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई। इस बीच मेरठ से एडीजी मौके पर पहुंच चुके हैं और प्रभावित इलाके में भारी पुलिसबल तैनात किया गया है।
बताया जा रहा है कि स्याना के एक गांव के खेत में गोवंश मिलने के विरोध में लोगों ने जाम लगाया था। इसको लेकर पुलिस और भीड़ में संघर्ष हो गया। पुलिस ने इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए गोली चला दी। इसमें एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। इसके बाद बेकाबू भीड़ ने पुलिस थाने पर हमला कर दिया। पुलिस कार्यवाही में जख्मी एक युवक की मेरठ में इलाज के दौरान मौत हो गई है।
‘अवैध बूचड़खाने को लेकर बवाल’
बुलंदशहर के डीएम अनुज झा का कहना है कि अवैध स्लॉटर हाउस के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों और पुलिस के बीच झड़प के दौरान पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध की मौत हो गई। वहीं, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर का कहना है कि इलाके में हालात काबू में हैं। झड़प की शुरुआत उस वक्त हुई जब लोगों ने पुलिस पर पथराव किया। इस दौरान गांव वालों से संघर्ष में इंस्पेक्टर की जान चली गई। एडीजी के मुताबिक ग्रामीणों ने पुलिस पर कई राउंड फायरिंग की।
फायरिंग में घायल सुमित की भी मौत
बुलंदशहर बवाल में घायल हुए युवक सुमित की मेरठ के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। चिंगरावती गांव का रहने वाला सुमित बीए का छात्र था। उसके बहनोई दिनेश का कहना है कि वह अपने साथी को बाइक पर छोड़ने जा रहा था। उसका विवाद से कोई मतलब नहीं है। इसी दौरान उसको गोली लगी। अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि गोली सुमित के सीने में लगी थी।
गोली लगने से इंस्पेक्टर सुबोध की मौत
भीड़ ने चौकी के अंदर जमकर तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की एक वैन और कई वाहनों को आग लगा दी। इसी दौरान भीड़ की ओर से जमकर पथराव किया गया। इसी बीच किसी ने फायरिंग कर दी जिसमें पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए और बाद में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। दिवंगत इंस्पेक्टर एटा जिले के रहने वाले थे। भीड़ की फायरिंग में इंस्पेक्टर के हमराह सिपाही को भी गोली लगी है। घायल सिपाही की हालत नाजुक बताई जा रही है।
एडीजी और आईजी की हालात पर नजर
मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है। बुलंदशहर में हालात को देखते हुए एडीजी प्रशांत कुमार और आईजी रेंज राम कुमार मौके पर पहुंच चुके हैं। घटनास्‍थल पर माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। बता दें कि बुलंदशहर में इन दिनों इज्तमा चल रहा है और वहां से बड़ी संख्‍या में लोग लौट रहे थे। उनके वाहन भी बवाल के कारण फंस गए। फिलहाल ऐसे वाहनों का रूट डायवर्ट कर औरंगाबाद-जहांगीराबाद के रास्ते निकाला जा रहा है। हालात पर काबू पाने के लिए हापुड़ रोड पर भी फोर्स लगाई गई है। एसपी देहात राजेश कुमार भारी पुलिसबल के साथ हापुड़ रोड पर तैनात हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »