निर्भया के दोषियों को फांसी न मिलने तक उपवास करेंगे आठवले

नई दिल्‍ली। निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग को लेकर समाजसेवी अन्ना हजारे पिछले 34 दिन से मौन व्रत पर हैं। केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने अन्ना हजारे से मुलाकात करने के बाद ऐलान किया कि जब तक निर्भया के दोषियों को फांसी नहीं मिल जाती वह उपवास करेंगे और अन्न को हाथ नहीं लगाएंगे। अन्ना हजारे रालेगण सिद्धि में मौन व्रत कर रहे हैं।
अन्ना हजारे से मुलाकात के बाद आठवले ने कहा, ‘मैंने रालेगण सिद्धि में आज अन्ना हजारे से मुलाकात की। मैंने यह तय किया है कि जब तक निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा नहीं हो जाती, मैं कुछ नहीं खाऊंगा।’
बता दें कि तिहाड़ जेल में बंद निर्भया के मुजरिमों को फांसी पर लटकाए जाने का डेथ वारंट जारी किया जा चुका है और उन्हें 1 फरवरी को फांसी के फंदे पर लटकाया जाएगा।
चारों को फांसी पर लटकाने की नई तारीख 1 फरवरी सुबह 6 बजे तय की गई है। फांसी देने वाले जल्लाद को 30 जनवरी को बुलाया जा रहा है ताकि इससे पहले वह इन्हें फांसी देने के ट्रायल भी कर सके। अगर इसी बीच मुकेश के अलावा अन्य तीनों (पवन, अक्षय और विनय ) में से किसी ने दया याचिका डाल दी तो यह मामला फिर कुछ दिन के लिए आगे बढ़ सकता है। ऐसे में कानूनी जानकारों का कहना है कि फिर से फांसी के लिए संभवत: एक नई डेट दी जाएगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *