NRC के मुद्दे पर असम TMC प्रमुख Dwipen pathak का इस्तीफा, कहा- माहौल खराब कर रही हैं ममता

नई दिल्ली। असम के टीएमसी प्रमुख Dwipen pathak ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। अपने इस्तीफे के लिए Dwipen pathak ने अपनी ही पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने आरोप लगाया कि एनसीआर के मुद्दे पर ममता बनर्जी देश का माहौल खराब कर रही हैं जबकि हकीकत में कुछ भी ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि एनआरसी का यह पहला ड्राफ्ट है और लोगों को अपने नाम दर्ज करने का पूरा मौका दिया जा रहा है।

दीपेन पाठक ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री जिस तरह के बयान दे रही हैं उससे असम में रहने वाले बंगाली और असम के लोगों के बीच तनाव पैदा हो सकता है। उनके वर्षों पुराने संबंधों में खटास आ सकती है। उन्होंने कहा कि अगर राज्य का माहौल खराब होता है, उसकी जिम्मेदारी उन पर आएगी।

एनआरसी को देश की एकता के लिए खतरा बताने वालीं ममता बनर्जी की पार्टी में नेता खुद एकमत नहीं हैं और पार्टी में बिखराव शुरू हो गया है।

असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन के मसौदे से उपजा राजनीति बवंडर अभी थमता नजर नहीं आ रहा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री तथा टीएमसी मुखिया ममता बनर्जी जहां इस मुद्दे को लेकर तमाम विपक्षी दलों को सरकार के खिलाफ लामबंद करने में जुटी हैं और एनआरसी को देश की अखंडता और शांति के लिए खतरा बता रही हैं, वहीं इस मुद्दे पर खुद उनकी पार्टी में बिखराव शुरू हो गया है।

जब से असम सरकार ने एनआरसी का पहला ड्राफ्ट जारी किया है, तभी से ममता बनर्जी इस मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए लगातार बयान दे रही हैं। वह पिछले तीन दिनों से दिल्ली में थीं और दिल्ली में उन्होंने विपक्ष तथा सत्ता पक्ष के कई नेताओं से मुलाकात की और एनआरसी को देश की एकता और शांति के लिए खतरा बताया। उन्होंने अपने दौरे में एक कार्यक्रम में कहा था कि एनआरसी से देश में रक्तपात होगा और गृहयुद्ध जैसे हालात पैदा हो जाएंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी ने 40 लोगों को अपने ही देश में शरणार्थी बना दिया है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »