आसिफ अली जरदारी के पास हैं 100 से अधिक घातक हथियार

इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान में राजनीति करने वालों में हथियारों के प्रति चाहत कितनी अधिक है और उनमें ‘दबंगई’ का अहसास कितना अधिक है, इसे इसी बात से समझा जा सकता है कि उनके हथियारों के भंडार में सेनाओं के द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले हथियार तक हैं जो एक बार में ही बहुतों को हताहत करने की क्षमता रखते हैं।
पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में यह जानकारी देते हुए कहा गया है कि पूर्व राष्ट्रपति व पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सांसद आसिफ अली जरदारी के पास ही सौ से अधिक हथियार हैं।
रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के सांसदों और विधायकों ने साल 2018 के लिए अपनी संपत्तियों की जो घोषणा की है, उससे पता चला है कि इनके पास बेहद घातक प्रतिबंधित हथियार तक हैं। इनमें एके-47, जर्मन जी-3 बैटल राइफल, एमपी-5 सबमशीनगन, ऑस्ट्रियन ग्लॉक, रूसी माकारोव पिस्तौल से लेकर तमाम तरह की शॉटगन हैं।
देश की संसद और प्रांतों की विधानसभा के कुल 99 सदस्यों ने अपने पास मौजूद हथियारों की जानकारी दी है लेकिन इनके विवरणों को छिपाने की कोशिश की गई है। इनकी कीमत या तो नहीं बताई या फिर यह बताया कि अमुक हथियार उन्हें उपहार में मिले हैं या विरासत में मिले हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक शहीद बेनजीराबाद के सांसद व पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने हथियारों की सटीक संख्या नहीं बताई, न ही यह बताया कि हथियार किस तरह के हैं। उन्होंने इनकी कीमत 1.66 करोड़ बताई है। यह माना जा रहा है कि उनके पास सौ से अधिक हथियार हैं।
खैबर पख्तूनख्वा के एक पूर्व विधायक ने कहा, “निवार्चित प्रतिनिधियों ने जो जानकारी दी है, वो तो बस एक झलकी है। हथियार रखना खैबर पख्तूनख्वा और बलोचिस्तान में संस्कृति का हिस्सा है। मेरे ही पास दर्जनों हथियार हैं लेकिन मैंने संपत्ति में कभी इनकी घोषणा नहीं की। बहुत से लोग इसे अपनी सुरक्षा के लिए भी जरूरी मानते हैं। देश के अलग-अलग इलाकों में सुरक्षा हालात ऐसे हैं कि इन्हें रखने की जरूरत महसूस होती है।”
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *