एशियन गेम्स-2018: बैडमिंटन महिला सिंगल्स में साइना नेहवाल का पदक पक्‍का

कॉमनवेल्थ गेम्स की चैंपियन साइना नेहवाल का एशियन गेम्स-2018 में पदक पक्का हो गया है। वह बैडमिंटन महिला सिंगल्स के सेमीफाइनल में पहुंच गईं हैं। उन्होंने क्वॉर्टर फाइनल में थाइलैंड की रतचानोक इंतानोन को सीधे गेम में 21-18 और 21-16 से हराया। पहले गेम में निराशजनक शुरुआत से लग रहा था कि साइना मैच का पहला गेम गंवा देंगी, लेकिन भारतीय शटलर ने जोरदार वापसी करते हुए न केवल पहला गेम जीता बल्कि दूसरे गेम में भी जीज दर्ज करते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। अब सेमीफाइनल में साइना का मुकाबला दुनिया की नंबर 1 खिलाड़ी चीनी-ताइपे की ताई जु यींग से होगा।
यह पहला मौका है जब एशियाई खेलों के बैडमिंटन स्पर्धा के महिला एकल में भारत ने अपना मेडल पक्का किया हो। इससे पहले कभी किसी शटलर ने महिला एकल में मेडल नहीं जीता है। रेकॉर्ड की बात करें तो बैडमिंटन इंडिविजुअल इवेंट में आखिरी बार सैयद मोदी ने 1982 में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। बता दें कि साइना और थाई खिलाड़ी के बीच यह 16वीं भिड़ंत थी, जिसमें भारतीय स्टार शटलर ने 11वीं बार जीत दर्ज की। यही नहीं, साइना की यह विपक्षी खिलाड़ी पर लगातार 5वीं जीत रही।
पहला गेम: पिछड़ने के बाद शानदार वापसी
28 वर्षीय साइना नेहवाल के लिए मैच की शुरुआत निराशाजनक रही। थाई खिलाड़ी ने जोरदार खेल दिखाया और साइना पर 3-11 की बड़ी बढ़त ले ली। इसके बाद साइना ने वापसी की और 17-17 से बराबर कर लिया। इसके बाद 18-18 तक दोनों बराबर रहीं। गेम के 19वें अंक से उन्होंने इस गेम में पहली बार प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी पर बढ़त बनाई और इसके बाद उनहोंने लगातार 2 पॉइंट और लेकर 21-18 से यह गेम अपने नाम कर लिया।
दूसरा गेम: साइना की आसान जीत
पहला गेम शानदार तरीके से जीतने वाली भारतीय शटलर ने दूसरे गेम में भी लय बरकरार रखा। उन्होंने शानदार स्मैश लगाते हुए 5-3 की अहम बढ़त ले ली। साइना के जोरदार खेल का अंदाजा इसी से लगाया सकता है कि रतचानोक इंतानोन ने एक पॉइंट लिया तो भारतीय खिलाड़ी ने दो पॉइंट लेकर बढ़त 7-4 तक पहुंचा दी। हालांकि, थाई खिलाड़ी ने कमबैक किया लेकिन साइना को जीत दर्ज करने से नहीं रोक सकी। ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडलिस्ट भारतीय शटलर ने यह गेम 21-16 से जीता।
प्री-क्वॉर्टर में फितरियानी को हराया
इससे पहले साइना ने राउंड ऑफ 16 के मुकाबले में इंडोनेशिया की फितरियानी को सीधे गेम में 21-6 और 21-14 से पराजित किया। भारतीय शटलर के सामने इंडोनेशिया की खिलाड़ी संघर्ष करती नजर आईं। साइना ने पहला गेम 21-6 से जीता जबकि दूसरे गेम को 21-14 से अपने नाम करते हुए क्वॉर्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। इन दोनों खिलाड़ियों के बीच यह चौथा मुकाबला था, जिसमें से चारों मुकाबले साइना के नाम रहे हैं।
पहले मुकाबले में सुरैया को हराया
बता दें कि इससे पहले साइना नेहवाल ने टूर्नमेंट में अपने पहले मुकाबले में ईरान की सुरैया अघाजियाघा को सिर्फ 26 मिनट में 21-7, 21-9 से हरा दिया था। यह मुकाबला भी साइना के लिए आसान रहा। उन्होंने एकतरफा जीत दर्ज की।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »