एशियन गेम्स 2018: दीपक कुमार ने 10 मीटर एयर राइफल में जीता सिल्वर मेडल

जकार्ता। दीपक कुमार ने एशियन गेम्स 2018 में भारत को तीसरा पदक दिलवाया है। सोमवार को जकार्ता में 30 वर्षीय निशानेबाज ने 10 मीटर एयर राइफल में सिल्वर मेडल जीता।
दीपक 247.7 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहे वहीं चीन के होरन येंग ने एशियन गेम्स के रेकॉर्ड 249.1 के साथ गोल्ड मेडल जीता। भारत के ही रवि कुमार 205.2 अंकों के साथ चौथे स्थान पर रहे।
भारत की ओर से रवि कुमार और दीपक कुमार दोनों ने ही फाइनल में जगह बनाई थी। रवि कुमार ने इससे पहले अपूर्वी चंदेला के साथ मिलकर मिक्स्ड डबल्स टीम इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर भारत के लिए इन एशियाई खेलों का पहला पदक जीता था। क्वॉलिफिकेशन राउंड में रवि चौथे स्थान पर 626.7 अंकों के साथ वहीं दीपक कुमार पांचवें स्थान पर रहे थे उनका स्कोर 626.3 रहा था।
दीपक ने पहली बार एशियाई खेलों में पदक हासिल किया है। इससे पहले, क्वालिफिकेशन में दीपक को पांचवां स्थान हासिल हुआ था, वहीं रवि ने चौथा स्थान हासिल किया था। फाइनल में एक समय पर दीपक बाहर होने की कगार पर थे लेकिन उन्होंने शानदार वापसी करते हुए अच्छा प्रदर्शन कर ताइवान लु शाओचुआन को मात देते हुए रजत पर कब्जा जमाया।
दीपक ने कहा, ‘मैं क्वॉलिफिकेशन में भी पीछे था। मैंने उनके शब्दों को याद किया। वह कहते हैं कि आपको अपनी ताकत और सीमाएं पता हैं। शुरुआत अच्छी नहीं थी और बीच में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका लेकिन मुझे संयम बनाए रखना था।’
दीपक पिछले साल ही भारतीय टीम में आए जबकि 2004 से निशानेबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह पदक शुरुआत भर है। उन्होंने कहा, ‘हर कोई यह सोचता है कि उसे क्या मिलेगा। मैने अपने गुरुकुल में सीखा है कि आपको आपका हिस्सा मिल ही जाएगा। दुखी होने की कोई जरूरत नहीं है। जिंदगी बहुत छोटी है।’ दीपक के माता-पिता ने उन्हें देहरादून में गुरुकुल अकादमी भेजा था। वह धाराप्रवाह संस्कृत बोलते हैं और गुरुकुल से मिली शिक्षा को फैलाने की कोशिश करते हैं।

लक्ष्य ने शूटिंग ट्रैप (पुरुष) में जीता सिल्वर मेडल
लक्ष्य शेरॉन 43/50 के स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे और भारत के लिए सिल्वर मेडल जीता। वहीं भारत के मानवजीत सिंह संधू को चौथे स्थान से संतोष करना पड़ा। चीनी ताईपे के यांग के को गोल्ड मिला। लक्ष्य की जीत के बाद स्टेडियम में भारत माता की जय के नारे भी लगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »