एशिया कप टी20 फाइनल: अंतिम गेंद पर जीत दर्ज करने में सफल रहा बांग्‍लादेश

कुआलालंपुर। एशिया कप टी20 के रोमांचक फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला क्रिकेट टीम को बांग्लादेश ने 3 विकेट से हराकर ट्रोफी अपने नाम कर ली। रविवार को यहां खेले गए मुकाबले में कैप्टन हरमनप्रीत कौर (56) की फिफ्टी की बदौलत भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 9 विकेट पर 112 रन बनाए। बांग्लादेश ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 113 रन बनाकर पहली बार यह खिताब जीत लिया।
बांग्लादेशी महिला टीम के लिए निगार सुल्ताना ने सबसे ज्यादा 27 रन बनाए। रुमाना अहमद ने 23 रन का योगदान दिया। भारतीय लेग स्पिनर पूनम यादव ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 9 रन देकर 4 विकेट लिए, लेकिन इसके बावजूद बांग्लादेशी टीम अंतिम गेंद पर जीत दर्ज करने में सफल रही। 6 बार की चैंपियन भारतीय टीम पहली बार एशिया कप के फाइनल में हारी।
जल्दी गिरे विकेट
लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेशी टीम के 2 विकेट 35 रन तक गिर गए। आयशा रहमान (17) और शमीमा सुल्ताना (16) को पूनम यादव ने पारी के 7वें ओवर में लगातार गेंदों पर शिकार बनाया। आयशा को 5वीं गेंद पर झूलन गोस्वामी ने लपका, फिर छठी गेंद पर मिताली राज ने शमीमा को कैच कर पवेलियन की राह दिखा दी। शमीमा ने 19 गेंदों पर 2 चौके जड़े, आयशा ने 23 गेंदों पर 3 चौके लगाए।
इसके बाद निगार सुल्ताना (27) और फरजाना (11) ने पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 20 रन जोड़े। फरजाना को पूनम ने विकेट के पीछे तान्या भाटिया ने लपका। फिर निगार ने रुमाना अहमद (23) के साथ चौथे विकेट के लिए 28 रन की पार्टनरशिप की। निगार को पूनम ने दीप्ति शर्मा के हाथों कैच कराया। उन्होंने 24 गेंदों पर 4 चौके लगाए। रुमाना अंतिम ओवर में रन आउट हुईं। उन्होंने 22 गेंदों की अपनी पारी में 1 चौका जड़ा। फहीमा खातून (9) को हरमन की गेंद पर तान्या ने स्टंप्स आउट किया।
अंतिम ओवर का रोमांच
बांग्लादेश को जीत के लिए अंतिम ओवर में 9 रन की जरूरत थी। ऐसे में गेंद खुद कैप्टन हरमनप्रीत ने पकड़ी। हरमन के ओवर की पहली गेंद पर संजीदा इस्लाम ने सिंगल लिया और अगली गेंद पर रुमाना चौका जड़कर जीत अपनी टीम के करीब ले आईं। तीसरी गेंद पर रुमाना ने सिंगल लिया। अंतिम 3 गेंदों पर 3 रन की दरकार थी और चौथी गेंद पर संजीदा (5) को बाउंड्री के पास वेदा ने लपका। पांचवीं गेंद पर रुमाना (23) सिंगल लेने के बाद रन आउट हो गईं। अंतिम गेंद पर जहानारा आलम ने दौड़कर 2 रन पूरे किए और बांग्लादेश ने पहली बार इस ट्रोफी को जीतने का गौरव हासिल कर लिया।
हरमन की फिफ्टी
हरमनप्रीत ने शानदार अंदाज में खेलते हुए 42 गेंदों पर 7 चौकों की मदद से 56 न बनाए। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरीं हरमन पारी की अंतिम गेंद पर कैच आउट हुईं। उन्होंने खदीजा की गेंद पर सिक्स लगाने का प्रयास किया लेकिन बाउंड्री के पास जहानारा आलम ने उन्हें कैच आउट कर दिया। उन्होंने टी20 करियर की पांचवीं फिफ्टी जड़ी।
भारत की खराब शुरुआत
भारतीय महिला टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और उसकी 4 बल्लेबाज 32 के कुल स्कोर तक पविलियन लौट गईं। स्मृति मंधाना (7) एक रन चुराने के चक्कर में रन आउट हो गईं। उन्होंने 12 गेंदों पर 1 चौका जड़ा। फिर दीप्ति शर्मा (4) को जहानारा आलम ने बोल्ड किया। इसके बाद खदीजा की गेंद पर मिताली राज एक खराब शॉट खेल बैठीं और फरजाना ने उन्हें कैच आउट किया। मिताली ने 11 रन का योगदान दिया। अनुजा पाटिल (3) को ऑब्स्ट्रक्टिंग द फील्ड के लिए थर्ड अंपायर ने आउट करार दिया।
हरमन और वेदा ने पहुंचाया 50 के पार
हरमनप्रीत और वेदा कृष्णमूर्ति (11) ने इसके बाद टीम को 50 के पार पहुंचाया। वेदा को टीम के 62 के स्कोर पर सलमा खातून ने बोल्ड किया। उन्होंने 10 गेंदों पर 1 चौका लगाया। दोनों ने 5वें विकेट के लिए 30 रन की साझेदारी की। तान्या भाटिया (3) और शिखा पांडे (1) को रुमाना अहमद ने पारी के 15वें ओवर में अपना शिकार बनाया।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »