अरुण जेटली ने कहा, जब असली हिंदुत्‍ववादी पार्टी मौजूद तो कोई क्‍लोन पर क्‍यों करेगा भरोसा

सूरत। केंद्रीय मंत्री और सीनियर बीजेपी नेता अरुण जेटली ने कहा कि उनकी पार्टी की जड़ें ‘हिंदुत्व’ में रही हैं लेकिन हिंदू धर्म में हाल में आस्था में रखने वाले लोग ‘क्लोन’ की तरह हैं।
सूरत में चुनाव प्रचार के दौरान अरुण जेटली ने पत्रकारों से कहा कि ‘बीजेपी को हमेशा से हिंदुत्व की समर्थक पार्टी के तौर पर देखा जाता रहा है और यदि कोई हमारी नकल करना चाहता है तो हमें कोई शिकायत नहीं है लेकिन राजनीति का एक बेसिक सिद्धांत रहा है, यदि असली उपलब्ध है तो कोई क्लोन पर भरोसा क्यों करेगा।’
अरुण जेटली ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के उस बयान के जवाब में यह बात कही, जिसमें उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी खुद को हिंदू नहीं कह सकते क्योंकि उन्होंने कट्टरवादी विचारधारा को आगे बढ़ाने का काम किया। इसके साथ ही अरुण जेटली ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाना साधा, जो गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान कई मंदिरों का दौरा कर चुके हैं।
ऐसे ही एक दौरे के वक्त राहुल गांधी जब सोमनाथ मंदिर गए तो गैर-हिंदुओं वाले रजिस्टर में उनका नाम दर्ज किए जाने पर विवाद खड़ा हो गया था। इस पर बीजेपी ने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा था कि उन्हें अपने धर्म को लेकर स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। इस पर कांग्रेस ने डैमेज कंट्रोल करते हुए कहा कि राहुल गांधी ‘जनेऊ धारी हिंदू’ हैं। यही नहीं इसके बाद राहुल गांधी ने खुद कहा कि वह शिव भक्त परिवार से आते हैं, लेकिन वह धर्म को अपना निजी मसला मानते हैं।
गौरतलब है कि गुजरात में चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी करीब 20 मंदिरों का दौरा कर चुके हैं।
-एजेंसी