छोटा हरिद्वार का बोर्ड लगाकर ‘मौत की डुबकी’ दिला रहे हैं लुटेरे

गाजियाबाद। गंगनहर में डुबकी लगाना खतरनाक साबित हो सकता है। शिकायत की गई है कि गंगनहर में लोगों से लूट के लिए डुबोने का खेल चल रहा है। इस मामले में मुरादनगर पुलिस से पिछले 6 महीने के दौरान गंगनहर में डूबकर जान गंवाने वाले लोगों का डेटा मांगा गया है।
गंगनहर किनारे एक मंदिर है। मंदिर पर छोटा हरिद्वार का बोर्ड लगा है। इस जगह स्नान करने दिल्ली-एनसीआर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। लोनी के विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने डीएम ऋतु माहेश्वरी को पत्र लिखकर शिकायत की है कि गंगनहर में एक गैंग लोगों को डुबो देता है। विधायक की इस शिकायत के बाद डीएम ने इसकी जांच एसडीएम मोदीनगर पवन अग्रवाल को सौंपी है। डीएम का कहना है कि लोनी विधायक का इस संबंध में पत्र मिला है। यह गंभीर मामला है। इसकी जांच कराई जा रही है।
एसडीएम पवन अग्रवाल ने बताया कि मुरादनगर पुलिस से पिछले 6 महीने के दौरान गंगनहर में डूबकर मरे लोगों का डेटा मांगा गया है। जांच के दौरान आसपास के लोगों से भी बात की जाएगी।
विधायक का कहना है कि भीड़ का फायदा कोई गैंग उठा रहा है। गोताखोरों के कुछ गिरोह जेवर पहनी हुईं महिलाओं और पुरुषों को निशाना बनाते हैं। इसके लिए गैंग के गोताखोर पहले से नहर में पानी के नीचे छिप जाते हैं। जैसे ही महिला-पुरुष स्नान करने गंगनहर में उतरते हैं, वे लोग उनके पैर खींचने लगते हैं और डुबोकर उनकी हत्या कर देते हैं। इसके बाद शव से जूलरी उतार ली जाती है। हत्या के बाद गोताखोर पत्थर से बंधी एक रस्सी से शव बांध देते हैं ताकि शव ऊपर न आ सके। लूट का खेल यहीं खत्म नहीं होता। डूबने वालों के परिवार वाले जब अपनों की तलाश करते हैं, तो गैंग के कुछ लोग उनके पास जाते हैं और शव तलाशने के बदले 10 से 20 हजार रुपये वसूलते हैं।
विधायक ने बताया कि उनके विधानसभा क्षेत्र की एक लड़की कुछ दिन पहले अपने परिवार वालों के साथ मुरादनगर गंगनहर में स्नान कर रही थी। इसी बीच एक गोताखोर ने उसका पैर पकड़ लिया। किसी तरह उसने पैर छुड़ाकर खुद को बचाया। ऐसा ही घटना हरियाणा निवासी एक शख्स के साथ भी हुई। उनका दावा है कि गंगनहर में मुरादनगर पुल के पास हर रोज लोगों को डुबा देने की वारदात हो रही है।
मुरादनगर पुलिस का कहना है कि हर वर्ष मुरादनगर पुल के पास गंगनहर में 30-35 लोगों की मौत डूबने से होती है। हालांकि, पुलिस के पास इस तरह की कोई सूचना नहीं है कि कोई गिरोह लूटने के लिए लोगों को डुबो रहा है। अब तक किसी ने ऐसी कोई शिकायत नहीं की है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »