तीरंदाजी वर्ल्ड कप: गोल्‍ड से 1 अंक चूकी भारतीय महिला कम्पाउंड टीम

बर्लिन (जर्मनी)। भारतीय महिला कम्पाउंड टीम एक बार फिर अंतिम बाधा पार करने में असफल रही और महज 1 अंक से पिछड़कर उसे तीरंदाजी वर्ल्ड कप के चौथे और अंतिम चरण में रजत पदक से संतोष करना पड़ा। वर्ल्ड कप सर्किट में पहले स्वर्ण पदक की आस लगाए ज्योति सुरेखा वेनाम, मुस्कान किरार और तृषा देब ने 59-57 से बढ़त बना ली थी। लेकिन तीसरे सेट में वे पिछड़ गई और फ्रांस की तिकड़ी ने 229-228 के स्कोर से स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
सोफी डोडेमोंट, एमेली सैनसेनोट और सांड्रा हर्वे ने लगातार 5 परफेक्ट 10 का स्कोर बनाया, जिससे दूसरे सेट तक उन्होंने 116-116 से बराबरी हासिल की। तीसरे सेट में भारतीय टीम पर दबाव और बढ़ गया क्योंकि उन्होंने खराब 6 और फिर 8 से शुरूआत की, जबकि फ्रांस की तिकड़ी ने लय कायम रखते हुए स्कोर 174-169 कर दिया। चौथे सेट में भारतीय तिकड़ी ने 60 में से 59 अंक जुटाए, लेकिन फ्रांस की टीम एक अंक से विजेता बनी।
5वीं रैंकिंग की भारतीय टीम ने सेमीफाइनल में शीर्ष रैंकिंग की तुर्की को 231-228 से मात देकर इस सत्र में दूसरे फाइनल में प्रवेश किया था। मई में दूसरे चरण में भी टीम फाइनल में पहुंची थी। वर्ल्ड कप के अंताल्या चरण में भारतीय टीम (ज्योति, मुस्कान और दिव्या धयाल) चीनी ताइपे से तीन अंक से हार गई थी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »