Trump की वेनेजुएला सेना से अपील, जुआन गुएदो का साथ दें

मियामी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड Trump ने जुआन गुएदो को समर्थन देने की पेशकश सेना से की। उन्होंने कहा कि वेनेजुएला की सेना को यह तय करना है कि वह गुएदो का समर्थन करते हैं या फिर अपना सब कुछ खो देते हैं। सेना अगर मादुरो का समर्थन जारी रखती है तो उनके लिए हालात और कठिन होते जाएंगे।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड Trump ने वेनेजुएला की सेना से विपक्षी नेता जुआन गुएदो की क्षमादान पेशकश को स्वीकार करने या सब कुछ खोने के लिए तैयार रहने की अपील की है। राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के अत्यंत आवश्यक मानवीय सहायता लेने से इंकार करने के बाद वेनेजुएला में संकट गहरा गया है। मानवीय सहायता जुटा पाना गुएदो की स्वीकार्यता को बरकरार रखने के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण है।
गुएदो ने पिछले साल मादुरो के पुनर्निर्वाचन को फर्जी बताया था और जनवरी में खुद को अंतरिम राष्ट्रपति घोषित कर दिया। उनके इस कदम को करीब 50 देशों ने मान्यता दी थी। उन्होंने मादुरो सरकार को देश में सहायता सामग्री पहुंचने देने के लिए शनिवार तक का समय दिया है। ये सामग्रियां मुख्य तौर पर अमेरिका की ओर से मुहैया कराई जा रही हैं। वेनेजुएला बेलगाम मुद्रास्फीति और भोजन एवं दवाओं की किल्लत के चलते मानवीय संकट की गिरफ्त में है।
मियामी में वेनेजुएला के निर्वासितों एवं समर्थकों से सोमवार को ट्रंप ने कहा कि मादुरो को उनके पद पर कायम रखने वाले अधिकारियों के लिए उनके पास एक संदेश है। उन्होंने कहा, ‘आज, हर रोज और भविष्य में आने वाले हर दिन विश्व भर की नजरें आप पर होंगी।’ ट्रंप ने कहा, ‘आप उस विकल्प से बच नहीं सकते जो अब आपके सामने है। आप अपने परिवार एवं देशवासियों के साथ शांति से जीवन जीने के लिए राष्ट्रपति गुएदो के माफी के उदार प्रस्ताव को स्वीकार कर सकते हैं। या फिर आप दूसरा रास्ता चुन सकते हैं: मादुरो को समर्थन देना जारी रख सकते हैं। अगर आप यह रास्ता चुनते हैं तो आपको कोई सुरक्षित आश्रय नहीं मिलेगा, न आसान निकास और न बाहर आने का रास्ता। आप सब कुछ खो देंगे।’
गुएदो ने यह सहायता प्राप्त करने के लिए 10 लाख स्वयंसेवियों को तैयार करने का लक्ष्य रखा है जिसमें से 6,00,000 पहले ही पंजीकृत हो चुके हैं। मादुरो ने भोजन सामग्रियों को खराब हो चुकी एवं संक्रमित बताकर यह मानवीय सहायता लेने से इनकार किया है। उन्होंने देश में उत्पन्न भोजन एवं दवाईयों की किल्लत के लिए अमेरिकी प्रतिबंधों को जिम्मेदार ठहराया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »