अनुकृति वास ने जीता फ़ेमिना मिस इंडिया 2018 का ख़िताब

फ़ेमिना मिस इंडिया 2018 प्रतियोगिता में भाग लेने वाली अनुकृति वास ने अपनी सूझबूझ के बल पर साल 2018 का ख़िताब जीत लिया है.
पिछले साल की विनर मानुषी छिल्लर ने अपने हाथों से तमिलनाडु से आने वाली अनुकृति के सर पर ताज़ पहनाया. इस साल फ़र्स्ट रनर अप हरियाणा की रहने वाली मीनाक्षी चौधरी बनीं.
वहीं, तीसरे नंबर पर आंध्र प्रदेश से आने वाली श्रेया राव रहीं. इस प्रतियोगिता में जज की कुर्सी पर पूर्व क्रिकेटर इरफ़ान पठान और बॉबी देओल जैसे सितारे मौजूद थे.
कौन हैं और क्या करती हैं अनुकृति
चेन्नई के लोयोला कॉलेज में पढ़ने वाली 19 साल की अनुकृति वास ख़ुद को एक सामान्य लड़की बताती हैं जिसे घूमना और डांस करना पसंद है.
अनुकृति अपने एक वीडियो में कहती हैं, “मैं तमिलनाडु के शहर त्रिची में पली-बढ़ी हूं जहां पर लड़कियों की ज़िंदगी बंधी हुई होती है. आप छह बजे के बाद घर से बाहर नहीं जा सकते. मैं इस माहौल के पूरी तरह ख़िलाफ़ हूं. मैं ये स्टीरियोटाइप तोड़ना चाहती थी इसीलिए मैंने मिस इंडिया प्रतियोगिता में हिस्सा लेने का फ़ैसला किया. अब मैं जब यहां पहुंच चुकी हूं तो मैं कहना चाहती हूं कि आप लोग भी उस क़ैद को तोड़कर बाहर निकल आएं और वहां पहुंचें जहां पर आप पहुंचना चाहते हैं.”
हिमाचल प्रदेश घूमने का सपना
अनुकृति इस समय लोयोला कॉलेज से बीए सेकेंड ईयर में हैं और फ्रेंच साहित्य की पढ़ाई कर रही हैं.
ख़ुद को एथलीट बताते हुए अनुकृति कहती हैं, “मुझे कभी भी दुनिया घूमने और उसे देखने का मौका नहीं मिला लेकिन अगर मुझे ऐसा मौका मिला तो आप निश्चित रूप से मुझे घर में नहीं देखेंगे क्योंकि मैं एडवेंचर और घूमना इतना पसंद करती हूं.”
“मैं एक एथलीट हूं और मेरे दोस्तों ने मुझे बताया है कि पैरा ग्लाइडिंग बहुत अच्छा अनुभव रहेगा. अगर मुझे मौका मिला तो मैं निश्चित रूप से हिमाचल प्रदेश जाना चाहूंगी क्योंकि मैंने सुना है कि वहां पर दुनिया की दूसरी सबसे अच्छी पैराग्लाइडिंग लोकेशन है”.
बाइकें, सोनम कपूर और कायली करडाशियां
अनुकृति कहती हैं कि वह एक टॉम ब्वॉय की छवि वाली लड़की रही हैं जिसे बाइकें चलाने का क्रेज़ है.
हाल ही में एक यूट्यूब चैनल पॉप डायरीज़ को दिए इंटरव्यू में अनुकृति ने उन चीज़ों का ज़िक्र किया है जो उनके लिए ख़ास हैं.
वह बताती हैं कि उन्हें सोनम कपूर, कायली करडाशियां और रणवीर सिंह बेहद पसंद हैं.
इसके साथ ही वह चाहती हैं कि अगर पिछले जमाने की कोई फ़ैशन वापस आ सके तो 70 के दशक वाले बड़े फ्रेम के चश्मों का ट्रेंड वापस आना चाहिए.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »