क्यूबा में एक और अमरीकी राजनयिक रहस्यमय बीमारी से ग्रस्त, अब तक 25

वॉशिंगटन। अमेरिका ने कहा है कि क्यूबा में उसका एक और राजनयिक रहस्यमय बीमारी से ग्रस्त हो गया है, जिसके बाद बीमार पड़ने वाले राजनयिकों की संख्या बढ़कर 25 हो गई है। विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नॉर्ट ने गुरुवार को कहा, ‘अगस्त 2017 के बाद चिकित्सकीय रूप पुष्ट हुआ यह हवाना का पहला मामला है। प्रभावित अमेरिकियों की संख्या अब 25 हो गई है।’
क्यूबा में इस तरह का पहला मामला साल 2016 के आखिरी महीनों में सामने आया था। इसके बाद 2017 में भी इस तरह से राजनयिकों के बीमार पड़ने के मामले आते रहे लेकिन इस तरह की बीमारी की चपेट में आने का रहस्य तब और गहराया जब चीन में अमेरिका का एक अधिकारी भी इसी प्रकार की संदिग्ध बीमारी की चपेट में आ गया। यह अधिकारी चीन के गुआंगझो में अमेरिका के वाणिज्य दूतावास में कार्यरत था।
अमेरिका ने पहले कहा था कि यह किसी प्रकार का हमला है। हीथर ने कहा कि अमेरिका ने इस नए मामले की जानकारी हवाना को 29 मई को दे दी थी साथ ही क्यूबा को भी अपनी धरती पर राजनयिकों की सुरक्षा सुनिश्चित कराने को कहा है। माना जा रहा है कि अमेरिकी राजनयिक को हवाना से बुला लिया गया है लेकिन उनके स्वाथ्य संबंधी परीक्षणों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।
न्यू यॉर्क टाइम्स की खबर के मुताबिक अधिकारियों को अब तक पता नहीं लग सकता है कि इन हमलों के पीछे आखिर वजह क्या है। हालांकि, इसकी जांच करने के लिए गठित की जा रही कमेटियों की संख्या बढ़ती जा रही है। हीथर नॉर्ट ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग इस बीमारी की वजह पता लगाने के लिए लगातार काम कर रहे हैं।
अमेरिकी विदेश मंत्रालय क्यूबा और चीन में अपने इस तरह के संदिग्ध हमलों के बाद अपने दर्जन भर से ज्यादा राजनयिकों को जांच के लिए वापस बुला चुका है। संदिग्ध हमलों के पीड़ित राजनयिकों को लगभग एक जैसी परेशानियां हो रही हैं जैसे, हल्का सिर दर्द, कान में तेज दर्द, थकान, बेचैनी, घबराहट। अप्रैल में चीन के गुआंगझो से पहले अमेरिकी राजनयिक को अजीब आवाजें सुनने की शिकायत के बाद वापस बुलाया गया था। अमेरिकी जांचकर्ताओं ने शुरुआत में क्यूबा में राजनयिकों के बीमार पड़ने के पीछे सॉनिक अटैक होने की आशंका जताई थी लेकिन अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »