Jabong व Myntra के सीईओ अनंत नारायण ने दिया इस्तीफा

अनंत नारायण 2015 में Myntra से जुड़े थे

नई दिल्‍ली। ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट की सहयोगी फैशन रिटेल कंपनी Myntra और जबोंग के सीईओ अनंत नारायण ने इस्तीफा दे दिया है। अनंत नारायण के इस्तीफे की पहले भी अटकलें लग चुकी थीं। हालांकि नारायण के इस्तीफे की इस बार फ्लिपकार्ट ने पुष्टि कर दी है।

इस कंपनी को करेंगे ज्वाइन
सूत्रों के मुताबिक अनंत नारायण जल्द ही स्टार टीवी नेटवर्क के वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म हॉटस्टार के सीईओ बनेंगे। हॉटस्टार के पहले रहे सीईओ अजीत मोहन फेसबुक इंडिया के एमडी बन गए हैं। अनंत नारायण 2015 में Myntra से जुड़े थे।

यह बनेंगे मिंत्रा के नए सीटीपीओ
अनंत नारायण के बाद वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली फ्लिपकार्ट में अब अमर नागाराम को मुख्य टेक्नोलॉजी और प्रोडक्ट ऑफिसर के पद पर नियुक्त होगी। नागाराम कल्याण कृष्णमूर्ति को रिपोर्ट करेंगे।

बिन्नी बंसल ने दिया था इस्तीफा
बिन्नी बंसल ने फ्लिपकार्ट के सीईओ पद से इस्तीफा दिया था। बिन्नी ने कहा कि यह समय उनके और उनके परिवार के लिए काफी चुनौती भरा है। जानकारी के मुताबिक बिन्नी पर लगा यौन दुर्व्यहार का मामला कुछ साल पूर्व का है।

बिन्नी बंसल ने कर्मचारियों को लिखे पत्र में कहा वो फिलहाल कंपनी के सबसे बड़े शेयर धारक बने रहेंगे और निदेशक बोर्ड में सदस्य के तौर पर काम करते रहेंगे। बिन्नी ने कर्मचारियों को भेजे गए एक ई-मेल में कहा है कि अपने ऊपर लगे आरोपों से वह सन्न हैं और वह इन आरोपों को पूरी तरह खारिज करते हैं।

नहीं मिली कुल कमाई की जानकारी
आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक फिलहाल बिन्नी और सचिन ने अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट को फ्लिपकार्ट को बेचने पर कितनी कमाई की है, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। इसके साथ ही उन पर कितना कैपिटल गेन टैक्स बनता है और टैक्स चुकाने का फॉर्मूला क्या है।

हालांकि, आयकर विभाग ने सचिन और बिन्नी बंसल के साथ-साथ फ्लिपकार्ट की हिस्सेदारी बेचने वाले अन्य शेयरधारकों को नोटिस भेजकर शेयरों की बिक्री से प्राप्त धन का खुलासा करने को कहा। इसी तरह के नोटिस वॉलमार्ट को भी भेजे गए और उससे फ्लिपकार्ट के विदेशी शेयरधारकों के कैपिटल गेन पर विदहोल्डिंग टैक्स चुकाने को कहा गया।

वॉलमार्ट ने जमा कराए 7439 करोड़ रुपये
पिछले साल फ्लिपकार्ट में 77 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के बाद वॉलमार्ट ने आयकर विभाग के पास 7439 करोड़ रुपये जमा किए थे। नियमों के मुताबिक, 15 दिसंबर तक सचिन और बिन्नी बंसल को टैक्स का 75 फीसदी हिस्सा आयकर विभाग को देना होगा।

टैक्स की बची हुई रकम 19 मार्च 2019 तक जमा करानी होगी और अगर दोनों ने टैक्स जमा नहीं किया तो उन पर जुर्माना लगाया जाएगा। कंपनी के 46 विदेशी शेयरधारकों का कितना टैक्स काटा गया है, इसके बारे में फ्लिपकार्ट ने जानकारी नहीं दी है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »