पेड़ों पर चढ़ने वाली बाइक में आनंद महिंद्रा ने दिलचस्‍पी दिखाई

नई दिल्‍ली। कर्नाटक के किसान गणपति की पेड़ों पर चढ़ने के लिए अनोखी बाइक काफी मशहूर हो रही है। इस बाइक के जरिए करीब एक लीटर पेट्रोल में सुपारी व नारियल के 80 पेड़ों पर चढ़ा जा सकता है। अब महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने इस खास तरह की बाइक में दिलचस्पी दिखाई है। उन्होंने ट्वीट कर इस नए आविष्कार की तारीफ की है।

आनंद महिंद्रा ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘यह कितनी कूल है? यह डिवाइस न केवल प्रभावी और अपना काम करती दिखाई पड़ती है, बल्कि इसे बेहतरीन तरीके से डिजाइन किया गया है। इसका वजह कम से कम है।’ इसके साथ ही ट्वीट में उन्होंने महिंद्रा ऐंड महिंद्रा लिमिटेड में फार्म इक्विपमेंट सेक्टर के प्रेजिडेंट राजेश जेजूरिकर को मेंशन करते हुए कहा कि आपकी टीम इस डिवाइस की करीब से पड़ताल करे और देखे क्या हम मिस्टर भट्ट की इस डिवाइस को अपने फार्म सॉल्यूशन पोर्टफोलियो के तहत बेच सकते हैं?
इस तरह ओपन प्लेटफॉर्म पर अपनी टीम को इस बाइक की मार्केटिंग का सुझाव देने पर एक ट्विटर यूजर ने जब महिंद्रा से पूछा कि ऐसा करने से दूसरी प्रतिद्वन्दी कंपनियां उनसे पहले गणपति से संपर्क कर सकती हैं। इस पर महिंद्रा ने जवाब दिया कि हां वह चाहते हैं कि जितने ज्यादा लोग उन तक पहुंचेंगे, उतनी बेहतर डील उन्हें मिलेगी। उनके जैसे दूसरे छोटे उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए यह जरूरी है।
गणपति ने ली चुनौती और बनाई मशीन
गौर करने वाली बात है कि नारियल व सुपारी के पेड़ों पर चढ़ना हमेशा से मुश्किल रहा है लेकिन अब इस नए आविष्कार के जरिए यह मुश्किल आसान हो सकती है। किसान गणपति ने इसे एक चुनौती के रूप में लिया और फिर उन्होंने इस मशीन को बनाया। इस मशीन के जरिए सेकंडों में आप इस पर बैठकर सीधे पेड़ के ऊपर तक पहुंच सकते हैं। इसके बाद आसानी से कीटनाशकों का छिड़काव कर सकते हैं।
‘यह मशीन सभी के लिए उपयोगी’
गणपति की बेटी सुप्रिया अपने पिता के इस अविष्कार से बेहद खुश दिखती हैं। कहती हैं, ‘पेड़ पर चढ़ने वाली यह मशीन किसानों के लिए काफी उपयोगी है। मैं खुद पेड़ पर चढ़ नहीं पाती थी। पर, इस मशीन के जरिए आसानी से सुपारी और नारियल के पेड़ पर चढ़ जाती हूं।’ सुप्रिया ने कहा कि ऐसे किसी भी व्यक्ति को सुपारी या नारियल के लंबे पेड़ पर चढ़ने के लिए 8 मिनट से अधिक का वक्त लगता है लेकिन इस मशीन के जरिए 30 सेकंड में वह पेड़ के सबसे ऊपरी हिस्से पर होता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »