अमिताभ बच्चन का 77वां जन्मदिन आज, बधाइयों का तांता

मुंबई। आज 11 अक्टूबर को बॉलिवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन अपना 77वां जन्मदिन मना रहे हैं। इस मौके पर बिग बी के पास पूरे बॉलिवुड से बधाइयों का तांता लग गया है। अनेक बॉलिवुड सिलेब्रिटीज ने सोशल मीडिया पर अमिताभ को उनके जन्मदिन की बधाई दी है।
वैसे सोशल मीडिया पर पहले ही #HappyBirthdayAmitabhBachchan ट्रेंड कर रहा है।
इस बीच अनुपम खेर, शत्रुघ्न सिन्हा, माधुरी दीक्षित, फरहान अख्तर, अजय देवगन, नेहा धूपिया, परिणीति चोपड़ा जैसे अनेक बॉलिवुड कलाकारों ने सदी के महानायक को बधाई दी है।
अमिताभ बच्चन से जुड़े सूत्रों के मुताबिक इस बार अमिताभ अपना बर्थडे सेलिब्रेट नहीं करेंगे। वह इस मौके पर बस खुद को पॉजिटिव फील कराते हुए जन्‍मदिन मनाना चाहते हैं। कहा जा रहा है कि अपने बर्थडे पर पार्टी देने के बजाय अमिताभ इस साल दिवाली पर पार्टी दे सकते हैं।
कॉलेज में अमिताभ बच्चन को मिलती थी सजा
बिग बी के फैन्स उनकी जिंदगी से जुड़ी लगभग सारी बातें जानते हैं लेकिन उन्‍हें शायद सह नहीं पता है कि कभी अमिताभ बच्चन को सजा भी मिलती थी।
यूं साल 2002 में अमिताभ बच्चन दिल्ली यूनिवर्सिटी में अपने कॉलेज किरोड़ीमल कॉलेज पहुंचे थे। यहां एक फंक्शन में उनको सम्मानित किया गया था। इस फंक्शन में 10 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए थे और यहां पर एक्ट्रेस हेमा मालिनी ने डांस परफॉर्मेंस भी दी थी।
साल 1964 से 1967 तक किरोड़ीमल कॉलेज के स्टूडेंट रहे अमिताभ ने जब इस फंक्शन में बोलना शुरू किया था तो पूरे ऑडिटोरियम में एकदम खामोशी छा गई थी।
उन्होंने कहा, ‘मुझे गर्व है कि मैं इस कॉलेज का हिस्सा रहा हूं। मुझे याद है कि अक्सर क्लासेज बंक करके कॉलेज की बाउंड्री पार कर पास के मार्केट में चला जाया करता था।’
इस मौके पर अमिताभ ने अपने टीचर फ्रैंक ठाकुरदास को भी याद किया जिन्होंने उन्हें कॉलेज की ड्रामा सोसायटी से जोड़ा था और जिनकी वजह से वह थिएटर के नजदीक आए। इस मौके पर एक्टर और डायरेक्टर सतीश कौशिक भी मौजूद थे जो खुद भी किरोड़ीमल कॉलेज से पढ़ चुके हैं।
उन्होंने बताया कि वह अमिताभ से काफी जूनियर थे लेकिन उनके समय में कॉलेज में सिर्फ बिग बी के बारे में ही बातें हुआ करती थीं।
सतीश कौशिक ने एक दिलचस्प किस्सा भी सुनाया। उन्होंने गताया कि ‘हमारे एक टीचर हुआ करते थे मिस्टर सुब्रमण्यम, जो हमेशा हमें उनकी बात नहीं मानने के लिए झिड़कते रहते थे। वह हमें हमेशा कहते रहते थे कि वह अमिताभ बच्चन को भी हमेशा सजा दिया करते थे और उन्हें खड़ा कर देते थे। तब हम उनसे मजाक में कहते थे कि सर हमें भी वहीं खड़ा कर दें, शायद हमारी किस्मत भी अमिताभ जैसी चमक जाए।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *