अमित शाह का आरोप, लोकतंत्र का गला घोंट रही है ममता सरकार

कोलकाता। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने ममता सरकार पर लोकतंत्र का गला घोंटने का आरोप लगाया है। पश्चिम बंगाल में रथयात्रा की इजाजत न देने को लेकर बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस में सियासी जंग छिड़ गई है। शुक्रवार को बीजेपी ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सीधा हमला बोला है। शाह ने कहा कि पंचायत चुनावों के बाद ममता की नींद उड़ी है, वह बीजेपी से घबरा रही हैं। बता दें कि बीजेपी ने ममता सरकार के फैसले के खिलाफ कलकत्ता हाई कोर्ट में भी अपील की है।
लोकतंत्र का गला घोंट रही हैं ममता: शाह
शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोप लगाया कि राज्य में सरकार पर सत्ता का दुरुपयोग कर आम जनता की आवाज दबा रही है। शाह ने कहा कि राज्य के पंचायत चुनाव में बीजेपी के अच्छे प्रदर्शन से ममता बौखला गई हैं और लोकतंत्र का गला घोंटने का कदम उठाया है।
बता दें कि पश्चिम बंगाल सरकार ने बीजेपी की रथयात्रा के आयोजन इस आधार पर अनुमति देने से इंकार कर दिया था कि इससे सांप्रदायिक तनाव फैल सकता है।
‘8 बार मांगी थी रथयात्रा की इजाजत’
शाह ने कहा कि रथयात्रा से राज्य सरकार से 8 बार इजाजत मांगी गई थी। शाह ने आरोप लगाया, ‘जितनी हिंसा ममता बनर्जी के कार्यकाल में हुई है, उतनी हिंसा तो कम्युनिस्ट शासनकाल में भी नहीं हुई थी। हमने पंचायत चुनाव में 7000 हजार से ज्यादा सीटें जीतकर दो नंबर का स्थान हासिल किया है और इसी से ममता डरी हुई हैं।’
पंचायत चुनाव में 20 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या: शाह
शाह ने आरोप लगाया कि राज्य के पंचायत चुनावों में बीजेपी के 20 कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा, ‘इन सभी हत्याओं में टीएमसी के कार्यकर्ता नामजद हैं। क्या राज्य सरकार बताएगी कि इसमें क्या प्रगति हुई है। पुलिस और टीएमसी के कार्यकर्ता राजनीतिक हत्याओं को शह दे रहे हैं।’
बंगाल में राजनीतिक हत्याओं का इतिहास
शाह ने आरोप लगाया कि देश में होने वाली 100 राजनीतिक हत्याओं में एक चौथाई बंगाल में होती हैं। उन्होंने कहा, ‘राज्य में प्रशासन भी वोटबैंक की राजनीति में शामिल है। आंतकवाद और आतंकवाद फैलाने वाली संस्थाओं पर नेकल कसने की राज्य सरकार की क्षमता नहीं है।’
घूस देकर मेडिकल में दाखिला
शाह ने आरोप लगाया कि राज्य में हर चीज का रेट तय है। उन्होंने कहा, ‘मेडिकल में दाखिले 15 लाख रुपये घूस देकर होते हैं। हर चीज का रेट तय है।’ शाह ने कहा कि बंगाल की जनता अब परिवर्तन के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, ‘मैं ममता को बिना मांगी सलाह देता हूं। टीएमसी हत्यारों को पनाह दे रही है। बीजेपी के कार्यकर्ता ममता के दमन डरते नहीं हैं। बंगाल में परिवर्तन के लिए प्रतिबद्ध हैं।’
रथ यात्रा पर कलकत्ता हाई कोर्ट ने यात्रा पर लगाई रोक
पश्चिम बंगाल में बीजेपी द्वारा प्रस्तावित रथ यात्रा पर कलकत्ता हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है। हाई कोर्ट में इस विवाद पर अगली सुनवाई 9 जनवरी को होगी। बता दें कि बीजेपी का 7 दिसंबर से उत्तर में कूचबिहार से अभियान शुरू करने का कार्यक्रम है। इसके बाद 9 दिसंबर को दक्षिण 24 परगना जिला और 14 दिसंबर को बीरभूमि जिले में तारापीठ मंदिर से भारतीय जनता पार्टी का रथ यात्रा शुरू करने का कार्यक्रम है। बीजेपी चीफ शाह का राज्य में पार्टी की ‘लोकतंत्र बचाओ रैली’ आयोजित करने का कार्यक्रम है जिसमें तीन ‘रथ यात्राएं’ शामिल हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »