अमित शाह बोले: कश्मीर में खुला वातावरण, लेकिन सुरक्षा से समझौता नहीं

नई दिल्‍ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि कश्मीर में खुला वातावरण है। वहां शांति का माहौल है। शाह ने कहा कि 5 अगस्त से 17 सितंबर तक जम्मू-कश्मीर में एक भी गोली नहीं चली और न ही किसी नागरिक की जान गई। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार देश की सुरक्षा से समझौता नहीं करेगी।
शाह ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन के प्रोग्राम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘‘यहां भारत की सुरक्षा से किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं किया जाएगा। हम अपने क्षेत्र में जरा सा भी किसी प्रकार का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम अपने सैनिकों के खून का एक कतरा भी बेकार नहीं जाने देंगे।’’
दुनिया में भारत के प्रति नजरिए में बदलाव
गृह मंत्री ने कहा, ‘‘सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद दुनिया में भारत के प्रति अन्य देशों के नजरिए में बदलाव आया है। वैश्विक स्तर पर भारत एक नई ताकत के तौर पर उभरा है। अन्य देशों ने भी भारत की ताकत को माना है।’’
केंद्र ने कोर्ट को भी यही बताया
हाल ही में केंद्र सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट को नोटिस का जवाब देते हुए बताया था कि 5 अगस्त के बाद जम्मू-कश्मीर में एक भी गोली नही चली और कोई जान नहीं गई जबकि 1990 से लेकर 5 अगस्त तक यहां 41,866 लोगों की मौत हुई। हिंसा की 71,038 घटनाएं सामने आईं और 15,292 सुरक्षाबलों को जान गंवानी पड़ी। सुप्रीम कोर्ट में कश्मीर में नेताओं की नजरबंदी के खिलाफ 8 याचिकाएं दायर की गईं। इस मामले में अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »