अमेठी सांसद Smriti Irani ने दिया सुरेंद्र सिंह की अर्थी को कंधा

नई दिल्‍ली। अमेठी में सहयोगी सुरेंद्र सिंह की हत्या के बाद Smriti Irani परिवार से मुलाकात करने अमेठी स्थित बरौलिया गांव पहुंचीं, जहां सुरेंद्र सिंह की शवयात्रा के दौरान Smriti Irani ने शव को कंधा भी दिया। उधर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी को जल्द से जल्द सभी हत्यारों को पकड़ने का आदेश दिया।

अमेठी में नवनिर्वाचित सांसद स्मृति इरानी के सहयोगी सुरेंद्र प्रताप सिंह की हत्या से हड़कंप मच गया है। रविवार दोपहर नई दिल्ली से अमेठी परिवार से मुलाकात करने पहुंचीं स्मृति इरानी ने सुरेंद्र के हत्यारों को जल्द से जल्द पकड़वाने का आश्वासन दिया। भावुक स्मृति इरानी सुरेंद्र सिंह की शवयात्रा के दौरान उनके शव को कंधा देती भी दिखीं।

सुरेंद्र सिंह की शवयात्रा के दौरान प्रदेश सरकार के मंत्री और विधायक भी मौजूद रहे। सुरेंद्र के परिवार ने हत्या के पीछे सियासी रंजिश को वजह बताया है। रविवार सुबह सुरेंद्र के बेटे अभय ने आरोप लगाया, ‘स्मृति इरानी की जीत को लेकर हम लोग जश्न भी मना रहे थे, जो कई कांग्रेस समर्थकों को अच्छा नहीं लगा। कहीं ना कहीं राजनीतिक रंजिश के चलते पिता की हत्या की गई। हम स्मृति इरानी से अपील करते हैं कि पिता के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर सजा दिलाएं।’

बता दें कि शनिवार देर रात करीब 3 बजे कुछ अज्ञात हमलावरों ने सुरेंद्र सिंह की घर में घुसकर हत्या कर दी थी। हत्या के वक्त सुरेंद्र सिंह घर के बरामदे में सो रहे थे, तभी उन पर गोलियों से हमला हुआ। सुरेंद्र सिंह बरौलिया के प्रधान रह चुके हैं। बरौलिया वही गांव है, जिसे राज्यसभा सांसद रहते तत्कालीन रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने गोद लिया था।

अमेठी से स्मृति की जीत में सुरेंद्र सिंह का अहम योगदान
सुरेंद्र सिंह ने 2019 लोकसभा चुनाव में स्मृति इरानी के चुनाव प्रचार में काफी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी। उनको करीब से जानने वाले लोगों के मुताबिक कई गांवों में उनका खासा प्रभाव था, जिसका फायदा इस चुनाव में स्मृति इरानी को मिला। कांग्रेस के गढ़ अमेठी में कमल खिलाने का श्रेय काफी हद तक सुरेंद्र सिंह को भी जाता है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »