पाक पीएम के बयान पर अमेरिका की तीखी प्रतिक्रिया: कहा, हाफिज सईद एक आतंकी है और मुंबई हमलों का मास्‍टरमाइंड भी

वाशिंगटन। मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को लेकर दिए गए पाक पीएम शाहिद खकान अब्‍बासी के बयान पर अमेरिका की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है। अमेरिका ने पाकिस्तान से दो टूक कहा है कि हाफिज सईद एक आतंकी है, जो मुंबई में हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड भी है इसलिए पाकिस्तान उस पर कानून की अंतिम सीमा तक केस चलाए।
अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्‍ता हेथर नेवार्ट ने कहा, ‘हम उसे एक आतंकवादी और एक विदेशी आतंकवादी संगठन का हिस्सा मानते हैं। हमारा मानना है कि वह 2008 के मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड था। इस हमले में अमेरिकियों समेत कई लोगों की मौत हो गई थी।’
पाक पीएम ने दी थी क्‍लीनचिट
आपको बता दें कि पिछले दिनों पाक पीएम ने हाफिज सईद को ‘साहेब’ कहते हुए कहा था कि उसके खिलाफ पाकिस्‍तान कोई केस दर्ज नहीं है। इसलिए मुकदमा नहीं चलाया जा सकता।
पाक पीएम के इस बयान के बाद अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्‍ता हेथर नेवार्ट ने मीडिया को संबोधित करते हुए साफ कहा कि अमेरिका हाफिज सईद को आतंकी मानता है और मानता रहेगा।
नेवर्ट ने कहा कि हमारा मानना है कि हाफिज सईद पर कानून की अंतिम सीमा तक केस चलाया जाना चाहिए। वह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा जारी 1267 आतंकियों की सूची में शामिल है। हमने पाक सरकार को भी अपना रुख स्‍पष्‍ट कर दिया है। हमारा मानना है कि इस शख्स के खिलाफ केस चलाया जाना चाहिए।
नेवर्ट ने आगे कहा कि हमने पाक पीएम अब्बासी का वह बयान भी देखा है, जिसमें उन्होंने हाफिज सईद को क्लीन चिट दी थी। हम हाफिज सईद को आतंकी मानते हैं, जो कि एक अंतर्राष्‍ट्रीय आतंकवादी संगठन के लिए काम कर रहा है। वह 2008 मुंबई हमले का मास्टमाइंड है, जिसमें अमेरिकी नागरिकों की भी मौत हुई थी।
नजरबंद किए जाने के बाद नवंबर में कर दिया गया रिहा
जमात उद दावा प्रमुख हाफिज सईद को नजरबंद किए जाने के बाद नवंबर में रिहा कर दिया गया था। अमेरिका ने जमात-उत-दावा को आतंकी संगठन घोषित किया हुआ है, जो कि लश्कर-ए-तैयबा के लिए काम कर रहा है। अमेरिका ने जमात-उद-दावा को 1987 में सईद द्वारा स्थापित लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी मोर्चा कहा था। 26/11 के मुंबई आतंकी हमलों को अंजाम देने में लश्कर ही जिम्मेदार था, जिसमें 166 लोगों की जान गई थी।
-एजेंसी