भारी बारिश और खराब मौसम के कारण स्थगित हुई अमरनाथ Yatra फिर शुरू

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रही भारी बारिश और खराब मौसम के चलते स्थगित की गई अमरनाथ Yatra एक बार फिर शुरू हो गई है। बता दें कि मौसम सही होने के साथ ही यात्रियों को आगे बढ़ने की इजाजत दे दी गई है। बारिश को देखते हुए कश्मीर डिविजन में सभी स्कूलों को शनिवार को बंद रखा गया है।
पहलगाम और बालटाल के रास्ते पैदल Yatra को मौसम ठीक होने के बाद शुरू कर दिया गया है। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवान दुर्गम रास्ते पार कर दर्शन करने में श्रद्धालुओं की मदद कर रहे हैं। बता दें कि यात्रियों का चौथा जत्था शनिवार को ही जम्मू पहुंचा जिसे वहीं रोक दिया गया था।
जम्मू-कश्मीर में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही बारिश से नदियां, नाले और अन्य जल स्रोत उफान पर हैं, जिसके कारण कश्मीर घाटी में शुक्रवार को बाढ़ की स्थिति घोषित कर दी गई है। भारी बारिश और खराब मौसम के कारण प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा स्थगित कर दी गई। कश्मीर डिविजन में सभी स्कूल भी शनिवार को बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।
राज्यपाल एनएन वोहरा ने राजभवन में बैठक की अध्यक्षता कर भारी बारिश के बाद कश्मीर की स्थिति पर चर्चा की। सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण के मुख्य अभियंता एम. एम. शाहनवाज ने एक बयान में कहा, ‘झेलम नदी अनंतनाग जिले के संगम में शुक्रवार शाम छह बजे 21 फुट के बाढ़ घोषणा स्तर को पार कर गई।’
उन्होंने कहा, ‘दक्षिण कश्मीर की तराई में रह रहे लोग, विशेष रूप से झेलम और अन्य नदियों के किनारे रहने वाले लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है।’ इस दौरान शुक्रवार को अमरनाथ Yatra स्थगित कर दी गई। किसी तीर्थयात्री को या तो उत्तर कश्मीर में बालटाल शिविर या दक्षिण कश्मीर के पहलगाम आधार शिविर से आगे नहीं जाने के लिए कहा गया था।
प्रशासन ने बताया था कि सभी यात्रियों को सुरक्षित दो आधार शिविरों में भेज दिया गया है। उधर, श्रीनगर के डेप्युटी कमिश्नर सय्यद आबिद शाह ने जानकारी दी कि मौसम को ध्यान में रखते हुए कश्मीर डिविजन के सभी स्कूलों को शनिवार को बंद कर दिया गया है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »