फर्जी आदेश से हुआ था मायावती के लिए बंगला नंबर 6 का आवंटन, जांच शुरू

लखनऊ। उत्तर प्रदेश संपत्ति विभाग ने शनिवार को बीएसपी सुप्रीमो मायावती को 2011 में आवंटित हुए सरकारी बंगले के मामले में जांच का आदेश दिया है। मायावती उस वक्त यूपी की मुख्यमंत्री थीं, जब उन्हें लखनऊ में 6, लाल बहादुर शास्त्री मार्ग का सरकारी बंगला मिला था।
बताया जा रहा है कि बंगला नंबर-6 का आवंटन उन्हें फर्जी आदेश के जरिए हुआ था। बंगला अलॉट किए जाने के दौरान संपत्ति विभाग को इस अनियमितता का पता चला है, इसी के बाद जांच शुरू की गई है।
इस बात की भी जांच की जा रही है कि पूर्व सीएम को बंगला आवंटन का फर्जी लेटर कैसे जारी किया गया। यह घटनाक्रम ऐसे वक्त में हुआ है, जब छह दिन पहले ही मायावती ने यूपी के सीएम को विरोध जताते हुए पत्र लिखा था। इसमें माया ने कहा था कि उन्हें 13-ए मॉल एवेन्यू के बजाए 6, लाल बहादुर शास्त्री मार्ग का बंगला आवंटित हुआ था और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इसे खाली करने का उन्हें नोटिस मिला था।
मायावती ने 25 मई को सरकार को भेजे जवाब में कहा था कि उन्हें मॉल एवेन्यू स्थित बंगला नंबर-13 ए और बंगला नंबर-6 आवंटित किया गया था। बीएसपी अध्यक्ष को एक साथ दो बंगले कैसे आवंटित हुए, जब इसकी जांच शुरू हुई तो कई तथ्य सामने आए हैं। मायावती अब तक यह कहती रही हैं कि 13-ए मॉल एवेन्यू वाला बंगला उनका आवास न होकर कांशीराम स्मारक है।
यूपी के संपत्ति अधिकारी योगेश शुक्ला ने कहा कि 6, एलबीएस मार्ग वाले बंगले के आवंटन आदेश में गड़बड़ी पाई गई है। इस ऑर्डर का डिस्पैच नंबर एक दूसरी आवंटी रेखा तनवीर को दिए गए नंबर से मेल खाता है।
रेखा को डालीबाग कॉलोनी में आवास अलॉट हुआ था। उन्होंने बताया कि इस संबंध में जांच शुरू की जा चुकी है। संपत्ति विभाग के रेकॉर्ड के मुताबिक 13-ए मॉल एवेन्यू बंगला मायावती को अलॉट हुआ था।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »