शीला दीक्षित ने गठबंधन को लेकर केजरीवाल पर लगाया झूठ बोलने का आरोप

नई दिल्‍ली। दिल्ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित ने आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है।
शीला दीक्षित का कहना है कि दिल्‍ली के ‘चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल ने मुझसे या फिर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से एक बार भी गठबंधन या फिर सीट शेयरिंग को लेकर बात नहीं की है।’​​ गठबंधन को लेकर आप नेताओं की ओर से कांग्रेस पर फैसला न ले पाने के आरोप लगाने संबंधी पूछे गए सवाल के जवाब में शीला ने यह बात कही।
पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने कहा है कि इसके लिए अरविंद केजरीवाल ने उनसे कभी संपर्क नहीं किया। यही नहीं, शीला दीक्षित ने कहा कि केजरीवाल द्वारा राहुल गांधी से भी गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं की गई है। शीला दीक्षित के इस बयान से एक बार फिर कांग्रेस और ‘आप’ के बीच गठबंधन की संभावनाओं पर संशय गहरा गया है।
जनवरी में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष बनने वालीं शीला ने कहा, ‘चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल ने मुझसे या फिर राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से एक बार भी गठबंधन या फिर सीट शेयरिंग को लेकर बात नहीं की है।’ गठबंधन को लेकर आम आदमी पार्टी के नेताओं की ओर से कांग्रेस पर फैसला न ले पाने के आरोप लगाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में शीला ने यह बात कही।
शीला ने एक तरह से आम आदमी पार्टी की गठबंधन करने की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘केजरीवाल ने मुझसे एक बार भी बात करने का प्रयास नहीं किया है। यदि आप किसी पार्टी के साथ गठबंधन करना चाहते हैं तो उसके साथ आपको बात करनी होगी। यह बातचीत दोनों दलों के शीर्ष नेताओं के बीच होना चाहिए। हालांकि इस पर कोई प्रगति नहीं हुई है और इस संबंध में सिर्फ चर्चाएं ही सुनने को मिल रही हैं।’
शीला के इस बयान से इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस की दिल्ली यूनिट में संभवत: सब-कुछ ठीक नहीं है।
गौरतलब है कि शीला दीक्षित को शुरू से ही आम आदमी पार्टी से गठबंधन के खिलाफ बताया जा रहा है, जबकि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन और दिल्ली के प्रदेश प्रभारी पीसी चाको गठबंधन को लेकर सकारात्मक रुख दिखाते रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »