देश के सभी PSU बैंक कोरोना संकट के दौर में मजबूत बनकर उभरे हैं: वित्त मंत्री

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के PSU बैंक की जमकर तारीफ की है उन्होंने कहा कि देश के सभी PSU बैंक कोरोना संकट के दौर में मजबूत बनकर उभरे हैं। हाल में ही कई बैंकों का विलय हुआ है और अब बैंक उस वजह से ग्राहकों को कोई दिक्कत नहीं होने दे रहे हैं।
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि बैंक स्टाफ के परिजनों को मिलने वाले पेंशन पर अब तक 9284 रुपये हर महीने का कैप लगा हुआ था, जिसे अब हटा लिया गया है। भारत के रेवेन्यू सचिव ने वित्त मंत्री की मौजूदगी में बुधवार को कहा कि अब बैंक स्टाफ को मिलने वाले वेतन का 30 फीसदी उनके परिजनों को पेंशन के रूप में मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि अब बैंक स्टाफ के परिजनों को मिलने वाली पेंशन की रकम 30-35,000 रुपये तक हो सकेगी।
PSU बैंक के प्रदर्शन की समीक्षा
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2 दिन के दौरे पर मुंबई गई थी। वहां उन्होंने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के सालाना प्रदर्शन की समीक्षा की। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रदर्शन की समीक्षा करने के बाद बुधवार दोपहर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मीडिया को संबोधित किया।
आत्मनिर्भर भारत योजना की प्रगति का जायजा
देश के सार्वजनिक क्षेत्र के सालाना प्रदर्शन की समीक्षा करने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण के बाद देश में बैंकिंग कामकाज की भी समीक्षा की और उस का जायजा लिया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों से की गई बातचीत में आत्मनिर्भर भारत योजना से संबंधित कामकाज की प्रगति का भी जायजा लिया।
कारोबार को जरूरत के हिसाब से मिले लोन
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कोरोना संकट के दूसरे चरण के बाद बैंकों को निर्यातकों और इंडस्ट्री चैंबर से बातचीत कर उनकी जरूरत के हिसाब से लोन उपलब्ध कराने के लिए कहा गया था। बैंकों ने इस दिशा में भी काफी प्रगति की है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि बैंकों से बातचीत के बाद अब यह समझ आया है कि लोग न्यू एज बैंकिंग में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे हैं और बैंक भी इसके लिए काफी प्रयास कर रहे हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *