अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक

आगरा। आज दिनांक १७ जून २०१८ को अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की एक बैठक होटल एकता पैलेस में सम्पन्न हुई।

इस बैठक में परिषद के संगठन को विस्तार देने हेतु २० सूत्रीय बिंदुओं पर विचार कर उन्हें पारित किया गया । संगठन को प्रभावी बनाने हेतु मंडल, ज़िला स्तर पर प्रति माह बैठक करना, मंडल प्रभारियों को गतिशील एवं सदस्यता प्रभावी रूप से चलाने पर गहन चिन्तन तथा विचार विमर्श किया गया।

इस बैठक की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर सुमन्त गुप्ता ने कहा की अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद पूरे प्रदेश में जगह जगह सम्मेलनों का आयोजन कर वैश्य समाज को एकता के सूत्र में पिरोने का काम कर रही है। साथ ही प्रदेश में जहाँ भी समाज का उत्पीड़न होता है परिषद इसका विरोध करने का कार्य करती है।

उन्होंने माँग की कि gst में जो जेल जाने का प्रावधान किया गया है उसे समाप्त करें , छोटे – मध्यम व्यापारियों का बैंक ऋण माफ़ किया जाए तथा व्यापारियों को वृद्ध अवस्था पेन्शन दी जाए।

बैठक में मुख्य अतिथि आगरा के महापौर नवीन जैन ने कहा कि वैश्य समाज सरकार को टैक्स के रूप में अपना योगदान दे रहा है। उन्होंने परिषद को धन्यवाद देते हुए कहा कि उनको महापौर बनाने में इसी वैश्य समाज का प्रमुख योगदान रहा है।

उन्होंने सभी को पेड़ लगाने का आव्हांन किया तथा कहा कि अब उनकी मुहिम ग्रीन आगरा बनाने की है। उन्होंने कहा जो लोग पेड़ लगाना चाहते हैं लेकिन वह ट्री गॉर्ड का ख़र्चा नहीं उठा सकते वह उनको ट्री गॉर्ड अपने पास से फ़्री उपलपध करा देंगे।

बैठक का संचालन श्री रवि प्रकाश अग्रवाल, राष्ट्रीय प्रधान महा सचिव ने करते हुए सभी २० सूत्रिय प्रस्तावों पर उपास्तिथ पदाधिकारियों से विचार विमर्श कर बहुमत से पारित कराई।

इस बैठक में आये हुए राष्ट्रीय पदाधिकारियों में सर्व श्री मुरारी प्रसाद अग्रवाल, दिनेश बंसल, विनय अग्रवाल, मानव महाजन अलीगढ़, विनोद अग्रवाल, भगवानदास बंसल, वीरेंद्र गुप्ता, डॉक्टर अशोक अग्रवाल चेअरमैन अछनेरा, सुभाष गुप्ता शिकोहाबाद, हरीओम अग्रवाल मथुरा, बसंत गुप्ता ऐड० दी जी सी क्राइम, संजय सिंघल सेवला, राजीव अग्रवाल शिकोहाबाद, अर्चना अग्रवाल आदि ने अपने विचार रखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »