आलिया भट्ट ने समझायी देशभक्‍ति की परिभाषा

मुंबई। अपनी अगली फिल्म ‘राजी’ में एक जासूस का रोल निभा रही आलिया भट्ट का कहना है कि केवल अपने देश से प्यार करना और गर्व महसूस करना ही देशभक्त होने के लिए काफी नहीं होता है। आलिया का मानना है कि देश के लोगों के भले के लिए निस्वार्थ भाव से कोशिश करना ज्यादा जरूरी होता है।
एक लाइन सुनकर फिल्म के लिए हो गई थी ‘राजी’: आलिया
उन्होंने कहा, ‘मैंने सीखा है कि जिसे हम देशभक्ति समझते हैं, असल देशभक्ति उससे उलट होती है। हम लोग कहते हैं कि हम देशभक्त हैं क्यों हम इस देश में रहते हैं और देश से प्यार करते हैं लेकिन यह काफी नहीं होता है।’
आलिया ने कहा, ‘हमें ऐसी ऐक्टिविटीज में शामिल होना चाहिए जो केवल हमारे खुद के लिए नहीं बल्कि देश के ज्यादा से ज्यादा लोगों का भला करें। सोशल मीडिया पर बहुत सारे फॉलोअर्स होने का क्या फायदा जब मैं अपनी आवाज ही न उठा सकूं।’
बता दें कि आलिया की अगली फिल्म ‘राजी’ एक किताब ‘कॉलिंग सहमत’ पर आधारित है। यह फिल्म कश्मीर की एक लड़की के ऊपर आधारित है।
आलिया ने कहा, ‘फिल्म में कश्मीर को निगेटिव तरीके से नहीं दिखाया गया है। कश्मीर बहुत खूबसूरत जगह है और मुझे काफी पसंद है। यह बहुत दुखद है कि वहां की घटनाओं के कारण कश्मीरियों का टूरिजम का बिजनस प्रभावित हो रहा है। लोगों को लगता है कि कश्मीर सेफ जगह नहीं है लेकिन यह सच नहीं है।’
मेघना गुलजार के डायरेक्शन में बनी फिल्म ‘राजी’ में आलिया के साथ विकी कौशल और सोनी राजदान भी महत्वपूर्ण भूमिका में है। यह फिल्म 11 मई को रिलीज होगी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »