अल-कायदा ने Charlie Hebdo को दी 2015 जैसा हमला करने की धमकी

पेरिस। अल-कायदा ने फ्रांस के अखबार शार्ली एब्दो Charlie Hebdo को एक बार फिर 2015 जैसा हमला करने की धमकी दी है।
दरअसल, इस हमले की सुनवाई शुरू होने पर अखबार ने पैगंबर मोहम्मद का वही कार्टून छापा था, जिससे गुस्साकर पहला हमला किया गया था। अलकायदा ने फ्रांस के राष्ट्रपति इम्मैन्युअल मैक्रों को भी निशाने पर लिया है।
अखबार, मैक्रों को चेतावनी
अल-कायदा ने अपने प्रकाशन वन उम्माह में धमकी दी है कि अगर शार्ली एब्दो को लगा कि 2015 अकेला हमला था तो यह उसकी भूल है। अल-कायदा ने अमेरिका में हुए 9/11 के हमले की सालाना बरसी पर यह एडिशन छापा था। आतंकी संगठन ने धमकी दी है कि वह फ्रांस के राष्ट्रपति इम्मैन्युअल मैक्रों को वही संदेश देगा जो फ्रांकोइस ओलांदे को दिया था। उसने आरोप लगाया कि मैक्रों ने इन कार्टून को फिर से छापे जाने की इजाजत दी।
अखबार को पछतावा नहीं
वहीं, अखबार के डायरेक्टर लॉरेन्ट सूरूसू ने कोर्ट में कहा है कि कार्टून दोबारा छापने का कोई पछतावा नहीं है। लॉरेन्ट खुद भी 2015 के हमले में घायल हुए थे। उन्होंने कहा है कि इस बार कार्टून नहीं छापने का मतलब होता यह कबूल करना कि पहली बार इसे छापना गलती थी।
मैक्रों ने भी नहीं की आलोचना
इससे पहले मैक्रों ने कहा था कि वह हेब्दो के कार्टून छापे जाने पर जजमेंट देने की पोजीशन में नहीं हैं। उन्होंने फ्रांस के लोगों के एक-दूसरे को सम्मान देने की जरूरत बताई और ‘नफरत की बातें’ नहीं करने के लिए कहा। हालांकि, उन्होंने कार्टून दोबारा छापे जाने की आलोचना से इंकार किया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *