एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने भी पीएम मोदी के Radar वाले बयान को सही बताया

नई दिल्‍ली। एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के Radar वाले बयान पर उनका बचाव करते हुुुए कहा कि घने बादलों के कारण Radar विमान को पूरी तरह से डिटेक्ट नहीं कर पाते।

गौरतलब है कि मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि जब बालाकोट एयर स्ट्राइक की योजना बन रही थी, तो मैंने विशेषज्ञों को सुझाव दिया था। मैंने कहा था कि आसमान में छाए बादल और भारी बारिश हमें पाकिस्तानी रडार से बचने में मदद कर सकते हैं। इस पर काफी विवाद भी हुआ।

एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ और एयर मार्शल आर नांबियार ने करगिल युद्ध में शहीद हुए स्क्वाड्रन लीडर अजय आहूजा को मिग-21 उड़ाकर श्रद्धांजलि दी

एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ और एयर मार्शल आर नांबियार ने पंजाब के भिसियाना एयरफोर्स स्टेशन पर न्यूज एजेंसी से बातचीत में ये बातें कहीं। दोनों ने यहां करगिल युद्ध में शहीद हुए स्क्वाड्रन लीडर अजय आहूजा को मिग-21 उड़ाकर श्रद्धांजलि दी।

वेस्टर्न एयर कमांड के कमांडिंग इन चीफ रघुनाथ नांबियार ने कहा है कि घने बादलों से रडार के सटीक तरीके से विमानों की पहचान करने में बाधा आती है। नांबियार द्वारा इसकी पुष्‍टि किये जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव के दौरान रडार वाले बयान पर विपक्षियों की आलोचना को जवाब मिल गया है।

नांबियार ने कहा कि यह सही है कि रडार से सटीक तरीके से विमानों की पहचान करने में घने बादलों का कुछ प्रभाव पड़ता है।

इससे पहले सेना प्रमुख बिपिन रावत भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रडार वाले बयान उनका बचाव कर चुके हैं। रावत ने केरल में दिए अपने बयान में कहा था कि कुछ रडार अपने काम करने के तरीके के कारण बादलों के पार नहीं देख पाते हैं।

बता दें कि पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव के दौरान एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में बालाकोट एयर स्ट्राइक पर पूछे गए सवाल के दौरान कहा था कि ऑपरेशन से पहले मौसम अचानक खराब हो गया था। 12 बजे पल भर के लिए मन में आया कि अब क्या करेंगे। किसी ने कहा तारीख बदल दी जाए। मैंने सोचा कि इतने बादल हैं तो एक फायदा है कि हम रडार से बच सकते हैं और बादलों का फायदा भी मिल सकता है। मैंने कहा इसी मौसम में ऑपरेशन को अंजाम दीजिए।

पीएम मोदी के इस बयान की आलोचना भी हुई थी। विपक्ष ने इस बयान का जमकर मजाक उड़ाया था। आलोचकों और विरोधियों ने कहा कि पीएम को इतना तो पता होना चाहिए कि रडार हर मौसम में काम करता है। वहीं, कांग्रेस ने इसे लेकर पीएम मोदी पर तीखे तंज कसे। पार्टी प्रवक्ताओं से लेकर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी पीएम मोदी का जमकर मजाक उड़ाया था।

राफेल विमान भारतीय वायु सेना के लिए गेम-चेंजर- धनोआ

भिसियाना एयरफोर्स स्टेशन पर न्यूज एजेंसी से बातचीत में एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा था कि राफेल लड़ाकू विमान भारतीय वायु सेना के लिए गेम-चेंजर साबित होंगे। वायुसेना को राफेल के दो स्क्वाड्रन मिलने वाले हैं। इससे भारतीय वायु सेना काफी एडवांस हो जाएगी। वायु सेना की ताकत के बारे में धनोआ ने कहा कि सुखोई-एम 30, तेजस और राफेल जल्द ही पुराने विमानों को रिप्लेस कर देंगे। अभी हमारा मुख्य लड़ाकू विमान मिग-21 बायसन है, जिसे अपग्रेड किया गया है। यह पुराने मिग-21 की तुलना में काफी बेहतर है।

26 फरवरी को वायु सेना ने बालाकोट पर एयर स्ट्राइक की थी

पुलवामा के अवंतीपोरा में 14 फरवरी को आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था। इसमें 44 जवान शहीद हो गए थे। जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इसके बाद भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में जैश के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी। इसके एक दिन बाद 27 फरवरी को पाकिस्तान ने कश्मीर के पुंछ इलाके में बालाकोट जैसी एयर स्ट्राइक की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय वायुसेना की मुस्तैदी के चलते उसके सभी निशाने चूक गए थे।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »