Air India को 4,600 करोड़ रुपये का ऑपरेटिंग लॉस

नई दिल्‍ली। सरकारी विमानन कंपनी Air India को फाइनैंशनल ईयर 2018-19 में 4,600 करोड़ रुपये का ऑपरेटिंग लॉस हुआ है। इसकी वजह तेल की कीमतों में इजाफा होना और फॉरेन एक्सचेंज में नुकसान होना है। हालांकि Air India के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि कर्ज में डूबी कंपनी को 2019-20 में कुछ लाभ होने की उम्मीद है। कठिन कारोबारी स्थितियों के चलते Air India का नेट लॉस 8,400 करोड़ रुपये था जबकि कुल रेवेन्यू 26,400 करोड़ रुपये रहा।
Air India के ही एक अन्य अधिकारी ने बताया कि 2019-20 में कंपनी 700 से 800 करोड़ रुपये का ऑपरेशनल प्रॉफिट होने का अनुमान है। मौजूदा वित्त वर्ष में अभी तक तेल की कीमतों में कोई तेज उछाल नहीं आया है, इसके अलावा फॉरेन एक्सचेंज रेट्स में भी ज्यादा फेरबदल न होने के चलते लाभ की उम्मीद है। हालांकि कंपनी को जून में समाप्त हुई तिमाही में 175 से 200 करोड़ रुपये तक का नुकसान हुआ है।
Air India को यह नुकसान पाकिस्तान की ओर से भारत के लिए एयरस्पेस बंद करने के चलते हुआ था। इसके चलते उड़ानों के परिचालन की लागत बढ़ गई और कंपनी को हर दिन 3 से 4 करोड़ रुपये अतिरिक्त खर्च करने पड़े। इससे पहले भारत की ओर से फरवरी में पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक के चलते भी कंपनी को नुकसान उठाना पड़ा था। तब पाकिस्तान ने भारत के लिए एयरस्पेस बंद कर दिया था और फरवरी से मार्च के बीच कंपनी को 430 करोड़ रुपये का लॉस हुआ था। Air India को चालू वित्त वर्ष में परिचालन लाभ में आने की उम्मीद है। कर्ज में डूबी विमानन कंपनी को पिछले वित्त वर्ष में करीब 4,600 करोड़ रुपये का परिचालन घाटा हुआ। इसका मुख्य कारण तेल के दाम में तेजी और विदेशी विनिमय दर में बदलाव से नुकसान है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि एयरलाइन के को 2018-19 में 8,400 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ जबकि कुल आय 26,400 करोड़ रुपये रही।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »