अगुस्टा वेस्टलैंड डील केस: बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल की कस्टडी बढ़ी

नई दिल्ली। अगुस्टा वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर डील मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल जेम्स (57) की कस्टडी चार दिन के लिए बढ़ा दी है। सीबीआई ने पांच दिन अतिरिक्त कस्टडी देने की मांग की थी। उधर, मिशेल को सीबीआई कोर्ट में पेश करने से पहले उनके वकील ए. के. जोसेफ पटियाला हाउस कोर्ट में पेश हुए।
उन्होंने मिशेल की इटैलियन वकील रोजमैरी पैटरिजी को पावर ऑफ अटॉर्नी देने की मांग की ताकि वह उनके खिलाफ जारी रेड कॉर्नर नोटिस को वापस लेने के लिए इंटरपोल में उनका प्रतिनिधित्व कर सकें।
उन्होंने कोर्ट को बताया कि रेड कॉर्नर नोटिस को वापस लेना इसलिए जरूरी है क्योंकि मिशेल का प्रर्त्यपण पहले ही हो चुका है।
उन्होंने मिशेल से मिलने की मांग की जिसे पटियाला हाउस कोर्ट ने खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि रोजमैरी और जोसेफ सीबीआई कस्टडी में मिशेल से नहीं मिल सकते। वहीं, रोजमैरी ने कोर्ट को बताया कि उनके पास मामले से जुड़े कुछ और दस्तावेज हैं जो वह कोर्ट में जमा कराना चाहती हैं।
उल्लेखनीय है कि मिशेल को 4 दिसंबर को प्रत्यर्पण के बाद दुबई से भारत लाया गया था। 6 दिसंबर को कोर्ट ने सुनवाई के दौरान मिशेल को सीबीआई कस्टडी में भेज दिया था। मिशेल के भारत आने के बाद से ही बीजेपी और कांग्रेस के नेता एक दूसरे पर हमलावर नजर आ रहे हैं।
इस विवाद ने तब और तूल पकड़ लिया जब यूथ कांग्रेस के लीगल सेल के इंचार्ज ऐडवोकेट जोसेफ, मिशेल की तरफ से कोर्ट में पेश हुए। बीजेपी ने मामले को उछाला, तो कांग्रेस ने इसे जोसेफ का व्यक्तिगत फैसला बताते हुए उन्हें यूथ कांग्रेस से बाहर का रास्ता दिखा दिया। हालांकि, कांग्रेस ने साथ ही आरोप लगाया कि राफेल डील में हुए घोटाले से ध्यान हटाने के लिए मोदी सरकार मिशेल का इस्तेमाल कर रही है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »