आतंक के व‍िरुद्ध: टेरर मानिटरिंग ग्रुप के दायरे में अब पंजाब भी, न‍िशाने पर खालिस्तान समर्थक संगठन

नई दिल्‍ली। जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद पर नकेल कसने के लिए नवगठित टेरर मानिटरिंग ग्रुप (Terror Monitoring Group, TMG) अब आने वाले दिनों में ज्‍यादा व्‍यापक दायरे में काम करेगा। आधिकारिक सूत्रों की मानें तो यह कश्‍मीर घाटी से आगे जाकर पड़ोसी राज्य पंजाब में स्थानीय पुलिस के साथ संयुक्त रूप से मिलकर कार्रवाई करेगा। सुरक्षा बलों से जुड़े सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसियों और राज्य पुलिस की हालिया जांच में पाया गया है कि पाकिस्‍तान में बैठे आतंकी सरगना जम्मू-कश्मीर में अपने नेटवर्क को मजबूत करने के लिए हथियार और फंड पंजाब की सीमा के रास्ते भेज रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) खालिस्तान आंदोलन को पुनर्जीवित करने की कोशिश कर रही है। आइएसआइ आतंकी नेटवर्क को पुनर्जीवित करने के लिए कनाडा, अमेरिका और ब्रिटेन में छिपे विभिन्न सिख आतंकी सरगनाओं की मदद कर रहे है। सूत्रों का कहना है कि आने वाले दिनों में आइएसआइ की चाल को नाकाम करने के लिए टीएमजी अब पंजाब पुलिस के साथ मिलकर ओवरग्राउंड वर्करों को कश्मीर में दाखिल होने से पहले ही उन्हें पकड़ने का काम करेगा।

पाकिस्‍तानी खुफि‍या एजेंसी आइएसआइ के मंसूबों को नाकाम करने के लिए टीएमजी व्‍यापकता के साथ काम करेगी। टीएमजी पंजाब पुलिस के साथ मिलकर आतंकी नेटवर्क के लिए मुहैया कराए जाने वाले हथियारों और धन की आमद को रोकने के लिए कदम उठाएगी। वहीं दूसरी ओर पंजाब और जम्‍मू-कश्‍मीर के सुरक्षा बल अपने-अपने इलाकों में आतंकियों को खत्‍म करेंगे। हाल के दिनों में पाकिस्‍तानी आतंकी सरगनाओं की ओर से पंजाब और जम्मू क्षेत्रों में ड्रोन, हथियारों और ड्रग्स की आपूर्ति की घटनाएं बढ़ी हैं।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *