BCCI को RTI दायरे में लाने के खिलाफ कोर्ट जाएगी CoA नई दिल्ली।

BCCI केंद्रीय सूचना आयुक्त (CIC) के आदेश के तहत RTI के दायरे में लाने के फैसले को लेकर प्रशासकों की समिति (CoA) ने कोर्ट जाने का फैसला लिया है। इस बात की चर्चा सीओए की पिछले हफ्ते हुई बैठक में ही की गई थी। BCCI ने भी सूचना आयोग के इस फैसले को चुनौती देने का विचार किया है। हालांकि बीसीसीआई ने सीओए पर भी लापरवाही के आरोप लगाए थे।
CoA के सदस्यों का अब कहना है कि सूचना आयोग को अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए क्योंकि आरटीआई के दायरे में आने पर क्रिकेटर्स की बातें और खेल के दौरान लिए गए फैसलों का भी खुलासा करना पड़ सकता है।
सीओए के सूत्रों ने बताया कि बीसीसीआई को आरटीआई के दायरे में लाना बिना दोबारा विचार किए मुश्किल है।
बीसीसीआई सदस्यों ने कहा कि इसके पीछे तर्क यह दिया जा रहा है कि एक सामान्य क्रिकेट का फैन भारतीय क्रिकेट का सबसे बड़ा स्टेकहोल्डर है और उसे बीसीसीआई के सभी प्रक्रियाओं की समझ होनी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं है कि बीसीसीआई अब यह भी बताएगी कि किसी खिलाड़ी को चुनने या न चुनने की वजह क्या थी।
बता दें कि केंद्रीय सूचना आयोग ने आदेश दिया था कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड अब सूचना के अधिकार के अंतर्गत काम करेगा और इसकी धाराओं के अंतर्गत देश के लोगों के प्रति जवाबदेह होगा।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »