लखनऊ महोत्सव की जगह बदलने के बाद अब थीम में भी बदलाव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी में आयोजित होने वाले लखनऊ महोत्सव की थीम में भी बदलाव किया गया है। हर बार लखनऊ महोत्सव की थीम ‘लखनऊवी तहजीब’ होती थी पर इस बार इसे बदलकर ‘लक्ष्मणपुरी से लखनऊ तक’ कर दिया गया है।
इतना ही नहीं, इस बार महोत्सव की जगह भी बदल दी गई है। हर साल जहां महोत्सव कांशीराम स्मृति उपवन में होता था वहीं इस बार का महोत्सव शहीद पथ के पास बने अवध शिल्पग्राम में होगा।
हर साल नवंबर महीने में लखनऊ महोत्सव का आयोजन होता था। इस बार यह 24 जनवरी 2018 को आयोजित किया जा रहा है। हर साल लखनऊ में होने वाले इस आयोजन में संस्कृति, खान-पान और विभिन्न तरीके की प्रतियोगिताओं का आयोजन होता है। नगर निगम चुनाव के चलते इस बार इसकी तारीख आगे बढ़ा दी गई थी।
अब लखनऊ महोत्सव यूपी दिवस के साथ एक ही मैदान में मनाया जाएगा। हालांकि यूपी दिवस और लखनऊ महोत्सव दोनों के सांस्कृतिक कार्यक्रम अलग-अलग समय पर होंगे।
यूपी दिवस के कार्यक्रम जहां दिन में होंगे वहीं शाम से लेकर रात तक लखनऊ महोत्सव के कार्यक्रमों का आयोजन होगा। लखनऊ महोत्सव का उदघाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।
ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब उत्तर प्रदेश के गठन को लेकर यूपी दिवस मनाया जाएगा। उत्तर प्रदेश का गठन देश की आजादी के बाद 24 जनवरी 1950 को हुआ था।
डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि यूपी दिवस की थीम एक जिला एक उत्पाद होगी। एडीएम ट्रांस गोमती अनिल कुमार ने बताया कि यूपी दिवस में हर जिले का एक अलग पारंपरिक स्टॉल होगा। इन 75 पारंपरिक स्टॉल्स के अतिरिक्त कई और स्टॉल्स लगेंगे। हर स्टॉल का चयन जिले की अनोखी पहचान को लेकर किया जाएगा।
-एजेंसी