वोट डालकर वसुंधरा ने कहा, शरद यादव के खिलाफ कार्यवाही करे चुनाव आयोग

जयपुर। झालावाड़ में वोट डालने के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए राजस्‍थान की मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा, ‘एक उदाहरण पेश करने के लिए यह जरूरी है कि चुनाव अयोग शरद यादव द्वारा इस्‍तेमाल की गई भाषा पर संज्ञान ले। मैंने वास्‍तव में अपमानित महसूस किया और मैं समझती हूं कि अन्‍य महिलाओं ने भी ऐसा ही महसूस किया होगा।’
गौरतलब है कि राजस्‍थान चुनाव प्रचार के आखिरी दिन एक रैली में पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव ने राज्य की सीएम वसुंधरा राजे पर एक विवादित टिप्पणी की थी।
राजस्थान की मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने चुनाव आयोग से मांग की है कि वह पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की विवादित टिप्‍पणी पर संज्ञान ले और उनके खिलाफ कार्यवाही करके उदाहरण पेश करे।
सीएम वसुंधरा ने कहा कि वह इस बयान से अपमानित महसूस कर रही हैं और यह समझती हैं कि अन्‍य महिलाएं भी ऐसा ही महसूस कर रही होंगी।
दरअसल, एक चुनावी सभा के दौरान शरद यादव ने लोगों से कहा था- ‘वसुंधरा को आराम दो, यह बहुत थक गई है। बहुत मोटी हो गई है। मध्य प्रदेश की है। हमारे मध्य प्रदेश की बेटी है।’ सीएम वसुंधरा पर शरद की इस टिप्पणी का एक वीडियो गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसके बाद इसकी आलोचना शुरू हो गई।
राजस्‍थान की मुंडावर सीट पर बुधवार को कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी के समर्थन में एक सभा का आयोजन किया गया था। इस सभा में शामिल होने शरद यादव भी अलवर पहुंचे थे। सभा में लोगों को संबोधित करते हुए शरद ने वसुंधरा सरकार की आलोचना की और इसी दौरान उन्होंने सीएम पर विवादित टिप्पणी भी की।
कई बार विवादित बयान देते रहे हैं शरद
शरद के इस बयान का वीडियो गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसके बाद इसकी आलोचना शुरू हो गई। हालांकि अब तक बीजेपी ने इस वीडियो पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।
बता दें कि शरद यादव इससे पहले भी कई मुद्दों पर विवादित बयान देकर आलोचना का शिकार होते रहे हैं। इससे पहले 24 जनवरी 2017 को पटना की एक रैली में शरद यादव ने कहा कि वोट की इज्जत बेटी की इज्जत से बड़ी होती है। हालांकि इस पर विवाद होने के बाद यादव ने अपनी सफाई में कहा कि उनके कहने का मतलब यह था कि जैसे बेटी से प्यार करते हैं, वैसा ही प्यार वोट से भी करना चाहिए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »