एक्‍टर आशीष रॉय ने बताया, बिना ठीक हुए क्‍यों लौट आए अस्‍पताल से

मुंबई। ‘ससुराल सिमर का’ फेम एक्‍टर आशीष रॉय हाल ही हॉस्पिटल से डिस्चार्ज हुए थे क्योंकि उनके पास फीस भरने के पैसे नहीं बचे थे।
अब उन्होंने बताया है कि वह घर क्यों लौट आए, जबकि उनकी तबीयत अभी भी ठीक नहीं है। उन्होंने बताया कि उन्हें अर्जेंट किडनी ट्रांसप्लांट की जरूरत है लेकिन इसके लिए उनके पास पैसे नहीं है।
इस बातचीत में उन्होंने साफ किया कि पैसों की तंगी के कारण उन्होंने फैसला लिया कि वह घर पर ही रहेंगे और केवल डायलिसिस के लिए अस्पताल जाएंगे। हालांकि, आशीष ने अपनी इंडस्ट्री और कॉलेज फ्रेंड्स का शुक्रिया अदा किया है, जिन्होंने इस मुश्किल वक्त में उनका साथ दिया है। उन्होंने बताया कि इस वक्त उनके लिए किडनी ट्रांसप्लांट बेहद जरूरी है, लेकिन उनके पास उतने पैसे ही नहीं हैं।
हॉस्पिटल और डायलिसिस दोनों का खर्च नहीं चला सकते हैं
उन्होंने बताया कि उन्हें हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होना पड़ा था क्योंकि उनके पास वहां के बिल भरने के लिए पैसे नहीं थे। उन्होंने यह भी कहा कि Covid-19 की वजह से इन्फेक्शन का खतरा भी काफी ज्यादा था, इसलिए बेहतर है कि केवल डायलिसिस के लिए ही हॉल्पिटल जाऊं। आशीष ने बताया, मैं या तो डायलिसिस का खर्चा संभाल सकता हूं या फिर हॉस्पिल का लेकिन दोनों के पैसे नहीं भर सकता।
सर्जरी की है जरूरत
हालांकि, वह एक बात को लेकर काफी खुश हैं। आशीष ने बताया, ‘मैं आज बहुत खुश हूं क्योंकि मुझे अच्छी खबर यह मिली है कि मेरी बॉडी में भरा एक्सेस पानी अब ऑलमोस्ट निकल चुका है लेकिन इसी के साथ मुझे अपने नए खर्च की भी जानकारी मिल गई है। बॉडी से एक्सेस वॉटर बाहर निकालने के लिए डॉक्टर catheter की मदद लिया करते हैं, जो मेरे गले से अंदर डाला जाता है। ये कैथेटर टेम्प्ररी हुआ करते हैं जो करीब 10 डायलिसिस के बाद गले के दूसरी तरफ शिफ्ट करना पड़ता है। इससे मुझे काफी परेशानी होती है, ऐसा लगता है जैसे कुछ एंटीना की तरह गड़ता हो। मैंने इसे डॉक्टर से निकालने को कहा तो उन्होंने बताया कि इसे 10 डायलिसिस के बाद सर्जरी से ही निकाला जा सकता है और इस पूरे प्रॉसेस में करीब 1 लाख रुपये का खर्च है। इस वक्त मेरी सबसे बड़ी समस्या पैसा ही है। मैं इस वक्त पैसी की काफी तंगी से गुजर रहा हूं। केवल मैं ही नहीं, देश भर के काफी लोग इस वक्त आर्थिक परेशानी का सामना कर रहे हैं। लॉकडाउन की वजह से इनकम का कोई सोर्स ही नहीं रहा।’
किडनी हो गई डैमेज
आशीष ने बताया कि सप्ताह में चार बार उन्हें डायलिसिस कराना पड़ता है और एक का खर्च 2000 रुपये तक पड़ता है। आज ही मैंने अपने डायलिसिस के लिए 1 लाख रुपये जमा किए हैं। लेकिन धीरे-धीरे मेरे सारे पैसे खत्म हो रहे हैं और मुझे लगता है कि पैसों की वजह से जल्द ही मुझे अपने डायलिसिस का काम भी रोकना पड़ेगा। डॉक्टर ने बताया कि मेरी बॉडी से एक्सेस वॉटर निकाला जा चुका है, लेकिन मेरी किडनी डैमेज हो गई है और मेरा शरीर काम करे इसके लिए अब किडनी ट्रांसप्लांट करवाने की जरूरत है। यदि मैं अपनी डायलिसिस बंद कर दूं तो अंदर ही अंदर कचरा जमा होता जाएगा और यह विषैला हो जाएगा। फिलहाल में किडनी ट्रांसप्लांट के बारे में सोच रहा क्योंकि मैं अपना सारे पैसे केवल डायलिसिस पर ही खर्च कर देना नहूीं चाहता हूं। लेकिन यह कठिन प्रॉसेस है और जब तक यह हो नहीं जाता तब तक मुझे डायलिसिस पर ही जीना पड़ेगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया किडनी ट्रांसप्लांट पर्मानेंट सल्यूशन तो है लेकिन यह काफी महंगी प्रक्रिया है। मेरे डॉक्टर ने कहा है कि कोविड की वजह से अगले 6 महीने तक इसके बारे में नहीं सोच सकते, क्योंकि इसमें काफी खतरा है।
खाने को लेकर कर रहे परहेज
उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने खाने में नमक कम कर दिया है और एक-दो सिप पानी पीकर काम चलाते हैं। मैं बंगाली हूं और हम मछली बहुत खाते हैं लेकिन मैं इन दिनों टेस्टलेस खाने पर जी रहा हूं।
हाल ही में हमने बताया था कि ‘ससुराल सिमर का’ फेम एक्टर आशीष रॉय काफी वक्त से पैसों की तंगी के साथ-साथ स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से जूझ रहे हैं, लेकिन किसी तरह की आर्थिक मदद न मिलने के कारण वह घर वापस लौट आए हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *